विष्णु पुराण से शुरू होकर मोदी पुराण सुनाने लगे केंद्रीय मंत्री, दिग्विजय सिंह का तंज

राज्यसभा में दिग्विजय सिंह द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र शेखावत ने अपने 75 मिनट के भाषण की शुरुआत विष्णु पुराण से की थी

Updated: Mar 24, 2021, 10:43 AM IST

विष्णु पुराण से शुरू होकर मोदी पुराण सुनाने लगे केंद्रीय मंत्री, दिग्विजय सिंह का तंज
Photo Courtesy: Freepress Journal

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर करारा तंज कसा है। कांग्रेस नेता ने कहा है कि केंद्रीय मंत्री ने अपनी भाषण की शुरुआत विष्णु पुराण से की और बाकी टाइम मोदी पुराण चलता रहा। उन्होंने यह भी कहा है कि मंत्रियों को मोदी पुराण पढ़ने से रोकना चाहिए। राज्यसभा में दिग्विजय सिंह के इस बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

दरअसल, कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने राज्यसभा में जल शक्ति मंत्रालय के आवंटित बजट के उपयोग नहीं कर पाने की बात कही थी। इस दौरान उन्होंने जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर चुटकी लेते हुए कहा कि, 'आप युवा हैं, पढ़े-लिखे हैं। राजस्थान में बीजेपी को आपसे बहुत उम्मीदें हैं। लेकिन जिस तरह का आपके मंत्रालय का परफॉर्मेंस है, तो हमारी बात तो छोड़िए बीजेपी को भी आपसे उम्मीद नहीं रहेगी। हमें तो वैसे भी नहीं है।'

इसके बाद दिग्विजय सिंह के बैड परफॉर्मेंस वाले बयान पर केंद्रीय मंत्री ने आपत्ति जताते हुए सदन में 75 मिनट का भाषण दिया। भाषण की शुरुआत उन्होंने विष्णु पुराण से की और पीएम नरेंद्र मोदी की गुणगान करते रहे। इसपर दिग्विजय सिंह ने पलटवार करते हुए कहा, 'मंत्री जी ने अपनी भाषण की शुरुआत विष्णु पुराण से की जो 75 मिनट की भाषण में मात्र एक मिनट चला और बाकी टाइम मोदी पुराण ही चलता रहा।' दिग्विजय और शेखावत के बयानों का एक मजेदार वीडियो क्लिप रिटायर्ड विंग कमांडर अनुमा आचार्य ने साझा किया है।

अनुमा आचार्य ने ट्वीट किया, 'राज्यसभा सांसद श्री दिग्विजय सिंह जी ने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री को लिया आड़े हाथ और कहा मंत्री जी ने विष्णु पुराण से शुरू कर 74 मिनट मोदी पुराण सुनाया। मोदी पुराण सुनते सुनते भाजपा सांसद ही नींद के घाट उतरते चले गये।' उन्होंने इस वीडियो में शेखावत के भाषण के दौरान खर्राटे भरते बीजेपी नेताओं और मोदी की तारीफ के दौरान हंसते सदस्यों को भी दिखाया है।

आचार्य के इस ट्वीट पर दिग्विजय सिंह ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'मैं सन् 77 से विधान सभा लोक सभा और अब राज्य सभा का सदस्य हूँ लेकिन मंत्रियों की इस प्रकार की भक्ति मैंने कभी नहीं देखी। हर मंत्री भाजपा सरकार की तारीफ़ नहीं करता केवल मोदी सरकार की तारीफ़ करते नहीं थकता।' उन्होंने आगे लिखा, 'भारतीय संविधान में सरकार राजनीतिक दल की होती है या किसी एक व्यक्ति की? मैं यह प्रश्न संसदीय कार्यप्रणाली के विद्वानों से करना चाहता हूँ। यदि जो मैं कह रहा हूँ उससे आप सहमत हैं तब लोक सभा व राज्य सभा अध्यक्षों से प्रार्थना करूँगा कि वे मंत्रियों को मोदी पुराण पढ़ने से रोकें।'