अयोध्या में BJP नेताओं ने बड़े स्तर पर कब्जाई सरकारी जमीन, अवैध प्लॉटिंग करने वालों की सूची जारी

अयोध्या में अवैध कब्जा जमाने वालों के नामों का खुलासा हो चुका है, प्राधिकरण की तरफ से अवैध कब्जा जमाने वालों की जो सूची जारी की गई है, उसमें अयोध्या के महापौर और बीजेपी विधायक सहित कई रसूखदार लोगों के नाम शामिल हैं

Updated: Aug 07, 2022, 04:16 PM IST

अयोध्या में BJP नेताओं ने बड़े स्तर पर कब्जाई सरकारी जमीन, अवैध प्लॉटिंग करने वालों की सूची जारी
Photo Courtesy: HT

अयोध्या। राम मंदिर बनने की कवायद शुरू होते ही अयोध्या में बड़े स्तर पर जमीन कब्जाने का खेल शुरू हो गया था। सत्ता में ऊपर तक पहुंच रखने वाले नेताओं ने हाथों हाथ जमीनों पर अवैध कब्जा करना शुरू कर दिया। अब जमीन कब्जाने वालों की सूची सामने आई है, जिसमें बीजेपी के कई नेताओं के नाम शामिल है।

दरअसल, अयोध्या विकास प्राधिकरण ने अवैध प्लॉटिंग करने वालों की एक सूची निकाली है। प्राधिकरण की तरफ से अवैध कब्जा जमाने वालों की जो सूची जारी की गई है, उसमें अयोध्या के महापौर और पूर्व विधायक सहित कई रसूखदार लोगों के नाम हैं। इनमें नगर निगम अयोध्या के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, नगर विधायक वेद प्रकाश गुप्ता और पूर्व विधायक गोरखनाथ बाबा सहित कई अन्य के नाम शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: आज़ादी का अमृत महोत्सव और 9 अगस्त की प्रासंगिकता, मूल्यों से भटकता राष्ट्रीय नेतृत्व

कई ऐसे नामों की चर्चा है जो डायरेक्ट सीएम हाउस तक अपनी जान पहचान रखते हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले ही अयोध्या के सांसद लल्लू सिंह ने अवैध प्लॉटिंग को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था। अवैध कोलोनाइजर्स का नाम तब ही सामने आया जब सांसद लल्लू सिंह ने मुख्यमंत्री को इस मामले की एसआईटी जांच कराए जाने के लिए पत्र लिखा।

दरअसल अयोध्या में अवैध प्लॉटिंग और अवैध कॉलोनियों का सिलसिला राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आते ही शुरू हो गया। राम मंदिर का फैसला आते ही जमीन कब्जाने में सत्ता से जुड़े महत्वपूर्ण पदों पर बैठे जनप्रतिनिधि पूर्व जनप्रतिनिधि और प्लाटिंग का अवैध कारोबार करने वाले माफिया जुट गए। पिछले साल भी अवैध तरीके से जमीन खरीद बिक्री मामले में राम जन्म भूमि न्यास के महत्वपूर्ण पद पर बैठे लोगों का नाम सामने आया था। अब देखना ये होगा कि सत्ता संरक्षित माफियाओं के खिलाफ इस मामले में कार्रवाई होती है नहीं।