पाकिस्तान के 6 यूट्यूब चैनल सहित कुल 16 चैनल पर सरकार ने लगाई रोक, 68 करोड़ की थी व्यूअरशिप

इससे पहले भी भारत सरकार सुरक्षा कारणों का हवाला देकर कई चैनलों को प्रतिबंधित कर चुकी है

Updated: Apr 25, 2022, 07:03 PM IST

पाकिस्तान के 6 यूट्यूब चैनल सहित कुल 16 चैनल पर सरकार ने लगाई रोक, 68 करोड़ की थी व्यूअरशिप

नई दिल्ली। राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा बताते हुए भारत सरकार ने कुल 16 यूट्यूब चैनलों पर रोक लगा दी है। प्रतिबंधित किए गए चैनलों में छह चैनल पाकिस्तान से संबंधित बताए जा रहे हैं। इन चैनलों पर भारत के विदेश संबंधों, राष्ट्रीय सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था से संबंधित दुष्प्रचार फैलाने का आरोप है। 

प्रतिबंधित किए गए चैनलों के पास कुल 68 करोड़ की व्यूअरशिप थी। इन चैनलों पर भारत विरोधी खबर प्रचारित करने का आरोप था। जिसके बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय इनके ऊपर रोक लगाने का फैसला किया। चैनलों के अलावा एक फेसबुक अकाउंट पर भी रोक लगाई गई है। 

यह भी पढ़ें : उदयपुर में आयोजित होगा कांग्रेस का तीन दिवसीय चिंतन शिविर, 6 समन्वय समितियों का हुआ गठन

हालांकि यह पहली बार नहीं हुआ है जब भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देकर यूट्यूब चैनल पर कार्रवाई की है। इससे पहले हाल ही में भारत सरकार ने आईटी नियमों का प्रयोग करते हुए कुल 22 यूट्यूब चैनलों को प्रतिबंधित कर दिया था। 

यूट्यूब चैनल के अलावा एक न्यूज़ वेबसाइट, एक फेसबुक अकाउंट और तीन ट्विटर अकाउंट को प्रतिबंधित कर दिया था। इनकी कुल व्यूअरशिप 260 करोड़ की थी।