अयोध्या में दंगे भड़काने की साजिश नाकाम, टोपी पहनकर हिंदू युवकों ने फेंका मांस, 7 आरोपी गिरफ्तार

जालीदार टोपी पहनकर मुस्लिमों के वेश में दंगे भड़काने निकले थे हिंदू युवक, मस्जिदों में फेंके आपत्तिजनक पर्चे और पोर्क के टुकड़े, पुलिस ने 7 आरोपियों को धर दबोचा

Updated: Apr 29, 2022, 01:09 AM IST

अयोध्या में दंगे भड़काने की साजिश नाकाम, टोपी पहनकर हिंदू युवकों ने फेंका मांस, 7 आरोपी गिरफ्तार

अयोध्या। देशभर में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की लगातार कोशिशें हो रही है। गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश और दिल्ली में सांप्रदायिक दंगों के बाद धर्म की नगरी अयोध्या में दंगे भड़काने की साजिश रची गई। साजिशकर्ताओं में 11 हिंदू युवक शामिल थे जो जालीदार टोपी पहनकर मुस्लिमों के वेश में दंगा फसाद कराने निकले थे। हालांकि, एक मौलाना की सूझबूझ से न सिर्फ यह साजिश नाकाम हुई बल्कि पुलिस 7 दंगाईयों को गिरफ्तार भी कर चुकी हैं।

उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक इस साजिश के मास्टरमाइंड का नाम महेश कुमार मिश्रा है। महेश मिश्रा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसने कहा है कि वह अयोध्या शहर के सौहार्दपूर्ण माहौल को खराब करना चाहता था। महेश के अलावा पुलिस ने प्रत्युष श्रीवास्तव, नितिन कुमार, दीपक गौड़
ब्रजेश पांडेय, शत्रुघ्न प्रजापति और विमल पांडेय को गिरफ्तार किया है।

गुरुवार को पुलिस सभी आरोपियों को मीडिया के सामने लेकर आई। SSP शैलेश पांडेय ने बताया कि इस घटना में 11 लोग शामिल थे। अन्य चार आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मास्टरमाइंड चाहता था कि उसकी यह करतूत CCTV में कैद हो जाए इसलिए आरोपियों ने दो ऐसी मस्जिदें चुनीं जहां CCTV लगे थे। वे जालीदार टोपी पहनकर गए थे ताकि पुलिस को लगे की यह करतूत स्वयं मुसलमानों ने ही की है।

आरोपियों ने अयोध्या के मस्जिद कश्मीरी मोहल्ला, टाटशाह मस्जिद, घोसियाना रामनगर मस्जिद, ईदगाह सिविल लाइन मस्जिद और दरगाह जेल के पीछे पोर्क, धार्मिक पुस्तक और आपत्तिजनक पोस्टर फेंके थे। 
सबसे पहले आपत्तिजनक पोस्टर मस्जिद के एक इमाम ने देखा। वह 2 बजे रात को जब नमाज पढ़ने जा रहे थे तभी उन्होंने बाइक पर 8 लोगों को देखा था। इसके बाद उन्होंने भड़काऊ पर्चे देखे।

इमाम ने तत्काल पुलिस अधिकारियों को इस घटना की जानकारी दी। पुलिस छानबीन के बाद सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों को पकड़ने में कामयाब रही। सभी आरोपी अयोध्या के ही निवासी बताए जा रहे हैं। मास्टरमाइंड महेश मिश्र के खिलाफ कुल 7 FIR पहले से ही दर्ज हैं। इस पूरे मामले में एसीएस होम अवनीश अवस्थी ने अयोध्या पुलिस को 1 लाख रुपए इनाम देने की घोषणा की है।