छत्तीसगढ़ में कारोबारियों के तीन दर्जन ठिकानों पर इनकम टैक्स की रेड, 100 से अधिक अफसर थे शामिल

रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, रायगढ़ और कोरबा में हुई आयकर विभाग की रेड, इनकम टैक्स के रडार पर लोहा और कोयला व्यापारी, कार्रवाई में छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के 100 से अधिक अफसर थे शामिल

Updated: Dec 23, 2021, 10:32 AM IST

छत्तीसगढ़ में कारोबारियों के तीन दर्जन ठिकानों पर इनकम टैक्स की रेड, 100 से अधिक अफसर थे शामिल
Photo Courtesy: ABP

रायपुर। छत्तीसगढ़ में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने बुधवार को एकसाथ कई जगहों पर दबिश दी। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के 100 से अधिक अधिकारियों की टीम ने करीब तीन दर्जन ठिकानों पर एक साथ दबिश दी। रायपुर, कोरबा, बिलासपुर, दुर्ग और रायगढ़ के कारोबारियों के यहां आयकर की छापेमार कार्रवाई एक साथ शुरू की गई। टैक्स डिपार्टमेंट की रडार पर मुख्य रूप से लोहा और कोयला व्यापारी थे।

जानकारी के मुताबिक आयकर अधिकारियों की अलग-अलग टीमों ने बुधवार सुबह करीब 5 बजे रायपुर के चौबे कॉलोनी स्थित रवि सिंघल के घर पर पहुंची। उसी वक़्त रायपुरा ओवरब्रिज के किनारे स्थित उनके दफ्तर पर भी अधिकारी पहुंचे हुए थे। रवि सिंघल रायगढ़ की कंपनी स्कॉई अलॉइज के मालिक हैं। आईटी अधिकारियों ने सिंघल के घर और दफ्तर को अपने कब्जे में ले लिया और किसी को अंदर से बाहर जाने की और बाहर से भीतर आने की इजाजत नहीं मिली। 

यह भी पढ़ें: हरीश रावत के ट्वीट से कांग्रेस में खलबली, पार्टी छोड़ने के क़यास तेज़

आयकर विभाग की टीमें जब रवि सिंघल के यहां कार्रवाई कर रही थी उसी समय शंकर नगर के ओम श्री अपार्टमेंट में अलका सोनी के घर, वॉलफोर्ट सिटी में प्रदीप अग्रवाल के घर और तेलीबांधा स्थित अमित-सुमित अग्रवाल के कार्यालय पर भी छापा पड़ा। इसी तरह दुर्ग, बिलासपुर, कोरबा और रायगढ़ में भी कई ठिकानों पर छापे पड़ रहे थे। एक साथ करीब 35 ठिकानों पर हुए छापे चर्चा का विषय हैं।

बताया जा रहा है कि इन छापों के लिए मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की टीमों ने संयुक्त कार्रवाई की। इसके लिए 100 से ज्यादा अधिकारी मंगलवार रात ही अपने-अपने टारगेट तक पहुंच गए थे। आईटी विभाग ने फिलहाल इन छापों को लेकर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है, हालांकि माना जा रहा है कि बड़े स्तर पर कर चोरी का भंडाफोड़ हो सकता है।