Nigeria में डाकुओं का आतंक, स्कूल से करीब 200 मासूम बच्चों को किया किडनैप, एक व्यक्ति की मौत

नाइजीरिया ने हथियारबंद हमलावरों ने इस्लामिक स्कूल में की ताबड़तोड़ फायरिंग, फिरौती के लिए करीब 200 मासूमों को बनाया बंधक

Updated: May 31, 2021, 01:25 PM IST

Nigeria में डाकुओं का आतंक, स्कूल से करीब 200 मासूम बच्चों को किया किडनैप, एक व्यक्ति की मौत
Photo Courtesy: Twitter

नाइजर। नाइजीरिया में हथियारबंद डकैतों का खौंफनाक चेहरा सामने आया। यहां इन डकैतों ने एक बोर्डिंग स्कूल से करीब 200 मासूम बच्चों को किडनैप कर लिया है। लूटेरों ने फिरौती की मोटी रकम पाने के लिए इस घटना को अंजाम दिया है। किडनैपिंग के दौरान डकैतों की ओर से हुई गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत होने की जानकारी मिली है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह घटना नाइजीरिया के उत्तर-मध्य क्षेत्र में बसे नाइजर राज्य का है। नाइजर के तेगिना इलाके में स्थित एक इस्लामिक बोर्डिंग स्कूल में रविवार की शाम करीब साढ़े चार बजे हथियारबंद लूटेरों ने धावा बोला और बच्चों को बंधक बना ले गए। बताया जा रहा है की इनमे से 11 बच्चों को उन्होंने छोड़ दिया क्योंकि वे इतने छोटे थे कि ज्यादा पैदल नहीं चल सकते थे।

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया में चूहों का आतंक, खेतों को किया बर्बाद, अब घर में लगा रहे आग, भारत भेजेगा जहर

स्कूल के मालिक अबुकर ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया कि उनका घर घटनास्थल से 150 मीटर की दूरी पर स्थित है और वह इस पूरे घटनाक्रम के दौरान प्रत्यक्षदर्शी रहे हैं। बकौल अबुकर तकरीबन 20 से 25 मोटरसाइकिल पर सवार होकर लोग आए थे। वे अंधाधुंध गोलाबारी करते हुए स्कूल में दाखिल हुए और बच्चों को अगवा कर लिया।

नाइजर स्टेट पुलिस प्रवक्ता वासीयू अबिओदुन ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि लूटेरों की ओर से हुई गोलीबारी के दौरान एक स्थानीय व्यक्ति की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि बच्चों को रेस्क्यू करने के लिए को बचाव दल को भेजा गया है और हम यह सुनिश्चित करेंगे कि बच्चों को कोई नुकसान नहीं पहुंचे।

यह भी पढ़ें: वियतनाम में भी मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, भारत और ब्रिटेन से मिलता जुलता है स्वरूप

हाल के दिनों में नाइजीरिया में इस तरह की घटनाएं तेजी से बढ़ीं हैं। दिसंबर से लेकर अब तक करीब 700 से अधिक छात्रों को अगवा किया गया है। पिछले महीने ही काडुना राज्य की यूनिवर्सिटी से अगवा किए गए 14 छात्रों को छोड़ा गया। नाइजीरिया के मानवाधिकार समूहों का कहना है कि 7 पहले की सबसे बड़ी अपहरण घटना के बाद भी नाइजीरियाई सुरक्षा अधिकारी छात्रों के अपहरणों को रोकने में विफल रहे हैं। 7 साल पहले चिबोक में 279 स्कूली छात्राओं का अपहरण कर लिया था।