Coronavirus: वैक्सीन आने से पहले मर सकते हैं 20 लाख लोग, डबल्यूएचओ की चेतावनी

WHO: कोरोना नियमों का पालन ना करने पर बढ़ भी सकता है आंकड़ा, कोरोना फैलाने के लिए युवाओं को जिम्मेदार ठहराना गलत

Updated: Sep 26, 2020 07:05 PM IST

Coronavirus: वैक्सीन आने से पहले मर सकते हैं 20 लाख लोग, डबल्यूएचओ की चेतावनी
Photo Courtesy: Onmanorama

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी दी है कि वैक्सीन आने से पहले दुनिया भर में 20 लाख कोरान वायरस से मर सकते हैं। यह संख्या तब और ज्यादा हो सकती है, जब कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन ना किया जाए। दुनिया भर में कोरोना वायरस के अब तक सवा तीन करोड़ से अधिक मामले सामने आ चुके हैं, जबकि सवा दो करोड़ लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं। 

WHO के आपातकाली प्रोग्राम के प्रमुख माइक रेयान ने कहा, "दस लाख लोगों का मरना दुखी करने वाला है लेकिन हमें इस आंकड़े के 20 लाख तक पहुंचने के लिए भी तैयार रहना होगा। महामारी अब तेजी से फैल रही है, ऐसे में हमें सजग रहने की जरूरत है।"

रेयान ने यह भी कहा कि युवाओं को महामरी के तेज प्रसार के लिए जिम्मदार नहीं ठहराया जा सकता क्योंकि लॉकडाउन खोलने का निर्णय सरकारों और स्थानीय प्रशासन का है। हालांकि, युवाओं को सावधानी बरतने और अपनी जिम्मेदारी समझने की जरूरत है। 

उन्होंने कहा कि सिर्फ सार्वजनिक स्थानों पर ही नहीं बल्कि घरों के अंदर भी लोगों के इकट्ठे होने से कोरोना फैल रहा है। 

Click: ICMR: कोरोना वैक्सीन 50 फीसदी भी कारगर हुई तो दी जाएगी मंज़ूरी, सांस की बीमारियों में नहीं मिलती 100 फीसदी सफलता

विश्व स्वास्थ्य संगठन की यह चेतावनी ऐसे समय आई है, जब अमेरिका में कोरोना मामले 70 लाख का आंकड़ा पार कर गए हैं। भारत में भी 60 लाख के पास पहुंचने वाले हैं। 

दूसरी तरफ विश्व स्वास्थ्य संगठन वैक्सीन की सप्लाई के लिए चीन से भी बातचीत कर रहा है। चीन ने कहा कि वह इस साल के अंत तक 60 करोड़ से अधिक वैक्सीन डोज बनाने में सक्षम है और अगले साल तक एक अरब।