छतरपुर में ऑक्सीजन की कमी के चलते 4 मरीजों की मौत, 5 घंटे ऑक्सीजन सप्लाई रही ठप

जिला अस्पताल में शनिवार की सुबह सिलेंडर की सप्लाई न पहुंचने से आइसोलेशन और आईसीयू वार्ड की ऑक्सीजन सप्लाई बंद हो गई। करीब 5 घंटे तक सप्लाई बंद रहने से दोनों वार्डों में भर्ती 4 गंभीर मरीजों की मौत हो गई।

Updated: Apr 25, 2021, 12:45 PM IST

छतरपुर में ऑक्सीजन की कमी के चलते 4 मरीजों की मौत, 5 घंटे ऑक्सीजन सप्लाई रही ठप
Photo courtesy: amarujala

भोपाल/ छतरपुर। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण बेक़ाबू हो गया है। अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी के चलते कोरोना मरीजों की मौत हो रही है। प्रदेश के कई ज़िला अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लत है। छतरपुर जिला अस्पताल में शनिवार की सुबह सिलेंडर की सप्लाई न पहुंचने से आइसोलेशन और आईसीयू वार्ड की ऑक्सीजन सप्लाई बंद हो गई। करीब 5 घंटे तक सप्लाई बंद रहने से दोनों वार्डों में भर्ती 4 गंभीर मरीजों की मौत हो गई। 

जिला अस्पताल प्रबंधन को शनिवार की सुबह जम्बो ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध नहीं हुए। इस कारण सुबह 9 बजे आइसोलेशन और आईसीयू वार्ड की ऑक्सीजन सप्लाई बंद हो गई। सप्लाई बंद होने से सिंचाई कालोनी की रहने वाली कल्पना मिश्रा, छत्रसाल नगर की माया गुप्ता, विश्वनाथ कॉलोनी की निशा सिंह और नौगांव के हीरालाल शर्मा की मौत हो गई। मरीजों की मौत की जानकारी लगते ही वार्ड के अंदर भर्ती मरीजों और परिसर में मौजूद परिजन में खलबली मच गई। 

मृतकों के परिजन शीलेंद्र सिंह, रमेश गुप्ता और देवेंद्र मिश्रा ने बताया कि हमारे मरीजों की हालत इतनी अधिक खराब नहीं थी कि उनकी मृत्यु हो जाती। पर शनिवार की सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक दोनों वार्डों में ऑक्सीजन सप्लाई बंद हो जाने से मरीजों की मौत हो गई। पूर्व वार्ड पार्षद कांग्रेस नेत्री कीर्ति विश्वकर्मा ने अस्पताल प्रबंधन पर आरोप लगाया है,उन्होंने कहा कि उनकी भाभी की तबियत बिगड़ने पर वे पहले क्रिश्चियन और इसके बाद जिला अस्पताल पहुंची। समय पर उनके मरीज को ऑक्सीजन उपलब्ध नही कराया गया ऑक्सीजन न होने के कारण मौत हो गई। यदि कोरोना संक्रमित को सही समय पर ऑक्सीजन उपलब्ध हो जाती तो उनकी जान बचाई जा सकती थी।


गौरतलब है कि छतरपुर ज़िले में बीते 24 घंटे में 447 कोरोना संक्रमित पाए गए। साथ ही देर रात जिला अस्पताल की एंटीजन किट रिपोर्ट में 74 व्यक्तियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इस प्रकार शनिवार को जिले भर के 521 लोग पॉजिटिव पाए गए। पिछले 24 दिनों से लगातार जिले में अधिक संख्या में नए पॉजिटिव पाए जाने से संक्रमितों की संख्या 5681 पहुंच गई है। वर्तमान में जिले में 1535 एक्टिव केस मौजूद हैं, जिसमें से 129 मरीजों की हालत गंभीर है। वहीं दूसरी ओर पिछले दिनों पाए गए संक्रमितों में से 198 मरीजों के स्वस्थ होने पर शनिवार की सुबह जिला अस्पताल और महोबा रोड स्थित कोविड केयर सेंटर से जरूरी दवाएं देते हुए डिस्चार्ज किया गया।