भोपाल महापौर चुनाव: BJP से कृष्णा गौर का नाम लगभग तय, कांग्रेस में विभा पटेल और संतोष कंसाना के नाम पर मंथन

भोपाल में नगर निगम में महापौर का पद ओबीसी वर्ग की महिला के लिए आरक्षित किया गया है। भाजपा और कांग्रेस दोनों ही जिताऊ उम्मीदवार की तलाश में हैं। दोनों पार्टियों की ओर से पूर्व महापौर टिकट की दौड़ में सबसे आगे हैं।

Updated: May 29, 2022, 12:46 PM IST

भोपाल महापौर चुनाव: BJP से कृष्णा गौर का नाम लगभग तय, कांग्रेस में विभा पटेल और संतोष कंसाना के नाम पर मंथन

भोपाल। नगर निगम की महापौर पद को लेकर आरक्षण प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इस बार राजधानी भोपाल में नगर निगम में महापौर का पद ओबीसी वर्ग की महिला के लिए आरक्षित किया गया है। ओबीसी वर्ग की महिला के लिए महापौर की सीट आरक्षित हो जाने के बाद भाजपा और कांग्रेस दोनों ही जिताऊ उम्मीदवार की तलाश में हैं। दोनों पार्टियों की ओर से पूर्व महापौर टिकट की दौड़ में सबसे आगे हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी की टिकट से गोविंदपुरा विधायक कृष्णा गौर चुनाव लड़ सकती हैं। प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और शिवराज सिंह चौहान की बैठक में गौर के नाम को लेकर ही सहमति बनी है। गोविंदपुरा विधायक कृष्णा गौर 2009 से 2014 तक महापौर रहीं। सामान्य महिला सीट होने पर भी भाजपा ने गौर को ही उम्मीदवार बनाया था। कृष्णा गौर बीजेपी के कद्दावर नेता और पूर्व सीएम बाबूलाल गौर की बहू हैं।

यह भी पढ़ें: MP से राज्यसभा के लिए विवेक तन्खा का नाम फाइनल, कमलनाथ का बड़ा ऐलान

इधर कांग्रेस में कैंडिडेट के लिए मंथन का दौर जारी है। फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि कांग्रेस किस महिला नेत्री को टिकट देगी। हालांकि, पूर्व महापौर विभा पटेल का नाम सबसे ऊपर चल रहा है। कारण है कि विभा पटेल को संगठनात्मक कार्यों का लंबा अनुभव रहा है। वह भोपाल की महापौर रहा चुकी हैं और अपने कार्यकाल के दौरान किए गए विकास कार्यों के लिए उनकी सराहना की जाती है।

विभा पटेल वर्तमान में मध्य प्रदेश महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष हैं। वे पिछले कुछ महीनों से बेहद सक्रिय भी दिख रही हैं। शहर में उनके बैनर-पोस्टर भी दिखने लगे हैं। कांग्रेस पार्टी ने साल 2008 में विभा पटेल को बाबूलाल गौर के विरुद्ध गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ाया था। हालांकि तब वे पराजित हो गई थीं। इस बार यदि वे चुनाव लड़ती हैं तो बाबूलाल गौर की बहू से उनका सामना होगा।

यह भी पढ़ें: दफ्तर दरबारी: जिंदा रहेंगे तब तो खिलौनों से खेलेंगे बच्‍चे

कांग्रेस में संतोष कंसाना के नाम पर भी चर्चा तेज है। संतोष कंसाना भोपाल के वार्ड नंबर 29 से पार्षद हैं। वह महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष भी हैं। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक संतोष को पार्टी दूसरा विकल्प के तौर पर देख रही है। चूंकि, विभा पटेल हाल ही में महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष बनीं हैं और विधानसभा चुनाव के मद्देनजर संगठन को उनकी जरूरत अधिक है। ऐसे में विभा पटेल यदि संगठनात्मक भूमिका की ही इच्छा जताती हैं तो संतोष कंसाना कांग्रेस की टिकट पर मैदान में उतरेंगी।