एमपी में कोरोना का कहर जारी, बिजावर विधायक राजेश शुक्ला कोविड की चपेट में

मध्य प्रदेश में एक दिन में कोरोना के 1140 नए मरीज मिले, विधायक राजेश शुक्ला भी कोरोना संक्रमित, भोपाल के चिरायु अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती

Updated: Mar 19, 2021, 06:12 PM IST

एमपी में कोरोना का कहर जारी, बिजावर विधायक राजेश शुक्ला कोविड की चपेट में
Photo Courtesy: Bhaskar

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर जारी है। प्रदेश में 24 घंटे में कोरोना संक्रमित 1140 नए मरीज मिले हैं। छतरपुर जिले के बिजावर विधानसभा सीट से विधायक राजेश शुक्ला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। फिलहाल उन्हें इलाज के लिए भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती किया गया है। विधायक ने अपने संपर्क में आए लोगों से कोरोना टेस्ट करवाने की अपील की है। विधायक के समर्थक उनके जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना कर रहे हैं।

विधायक राजेश शुक्ला बीते दिनों कई कार्यक्रमों में शामिल हुए थे। राजेश शुक्ला समाजवादी पार्टी के टिकट पर विधानसभा के लिए चुने जाने वाले इकलौते विधायक हैं। जून 2020 में उन्हें सपा ने पार्टी विरोधी गतिविधियों की वजह से निष्कासित कर दिया था। राजेश शुक्ला पर आरोप लगाया गया था कि राज्यसभा चुनाव के दौरान उन्होंने बीजेपी का साथ दिया था। 

इनसे पहले विधानसभा के बजट सत्र के दौरान डाक्टर विजय लक्ष्मी साधौ, निलय डागा और देवेंद्र वर्मा समेत चार विधायक कोरोना संक्रमित मिले थे। वहीं विधानसभा और वल्लभ भवन के दो दर्जन से ज्यादा कर्मचारी कोरोना की चपेट में आ गए थे। गुरुवार को मंत्रालय में एक साथ 15 कर्मचारी संक्रमित मिले थे। वहीं विधानसभा सत्र के दौरान 6 मार्शल समेत 8 कर्मचारी संक्रमित मिले हैं। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर विधानसभा सत्र निश्चित अवधी से पहले ही समाप्त कर दिया गया था। वहीं बीजेपी और कांग्रेस के कई दिग्गज कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, मंत्री गोपाल भार्गव, विश्वास सारंग, अरविंद भदौरिया, प्रभुराम चौधरी, बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रभात झा कोरोना संक्रमित रह चुके हैं। वही कांग्रेस से विधायक लक्ष्मण सिंह, कुणाल चौधरी, पीसी शर्मा, विजयलक्ष्मी साधौ समेत बड़ी संख्या में नेता कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। हाल ही में कोरोना संक्रमण के चलते बीजेपी सांसद नंद कुमार सिंह का निधन हो गया था। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार की वजह से भोपाल इंदौर में जहां नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। जबकि आठ शहरों में मार्केट जल्दी बंद करवाने के निर्देश दिए गए हैं। इंदौर में 302 और भोपाल में 203 कोरोना के नए मरीज मिले हैं। अब इन स्थानों के साथ अन्य जिलों में भी सख्ती की जा रही है। वहीं कोरोना वैक्सीन लगाने का काम भी तेजी से जारी है।