आर्थिक अपराध शाखा ने पीएफ कमिशनर को 5 लाख रुपए रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा

उद्योगपति को उनकी फर्म पर कार्रवाई की धमकी देकर मांगी थी 10 लाख रुपए की रिश्वत, 5 लाख रुपए वसूल भी लिए थे

Publish: Jun 06, 2022, 02:37 PM IST

आर्थिक अपराध शाखा ने पीएफ कमिशनर को 5 लाख रुपए रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा

भोपाल। 
आर्थिक अपराध शाखा, EOW ने सागर क्षेत्र के कर्मचारी भविष्य निधि कमिशनर सतीश कुमार को एक उद्योगपति से 5 लाख रुपए रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा है।  सागर रीजन के EPF कमिशनर सतीश कुमार ने बीड़ी उद्योगपति अनिरुद्ध पिंपला की फर्म पर कार्रवाई का दबाव बनाकर बीड़ी उद्योगपति से 10 लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी। बीड़ी उद्योगपति अनिरुद्ध पिंपला कमिशनर सतीश कुमार को 5 लाख रुपए दे भी चुके थे। इसके बाद भी सतीश कुमार उद्योगपति से 5 लाख रुपए और मांग रहे थे। बीड़ी उद्योगपति ने इसकी शिकायत जबलपुर EOW से 3 जून को कर दी। 

अपनी शिकायत में बीड़ी उद्योगपति अनिरुद्ध पिंपला ने कहा था कि EPF कमिशनर, सागर उनकी फर्म पर कार्रवाई का दबाव बनाकर उनसे 10 लाख रुपए की रिश्वत मांग रहे हैं। उद्योगपति के शिकायत की पुष्टि हो जाने के बाद आर्थिक अपराध शाखा ने EOW एसपी देवेंद्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में एक दल का गठन किया। 
प्लानिंग के तहत उद्योगपति अनिरुद्ध पिंपला को रविवार रात 5 लाख रुपए देकर कर्मचारी भविष्य निधि कमिशनर सतीश कुमार के सनराइज टाउन स्थित घर पर भेजा गया। जैसे ही उद्योगपति ने कर्मचारी भविष्य निधि कमिशनर सतीश कुमार को रिश्वत के रुपए दिए', आर्थिक अपराध शाखा की टीम ने कमिशनर सतीश कुमार को रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ लिया। आर्थिक अपराध शाखा की सागर और जबलपुर की टीम की ओर से संयुक्त रूप से ये कार्रवाई की गई। अब टीम पीएफ कमिशनर के और भी मामलों को खंगालने में जुट गई है। रिश्वत लेने के आरोपी सतीश कुमार के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 और संशोधन अधिनियम 2018 के तहत कार्रवाई की गई है।