निवाड़ी के गांव में बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बचाव का काम जारी

निवाड़ी के शैतपुरा गांव में बोरबेल में गिरा 4 साल का मासूम बच्चा, सेना बचाव कार्य में जुटी, रेस्क्यू टीम को रुक-रुककर सुनाई दे रही बच्चे की आवाज, जेसीबी की मदद से हो रही खुदाई

Updated: Nov 04, 2020, 05:10 PM IST

निवाड़ी के गांव में बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बचाव का काम जारी
Photo Courtesy: Bhaskar

निवाड़ी। मध्य प्रदेश के निवाड़ी में चार साल का बच्चा बोरवेल में गिर गया। बच्चे का रेस्क्यू करने के लिए सेना को बुलाया गया है। बोरवेल दो सौ फीट गहरा है, जहां बच्चा करीब 50-60 फीट में फंसा हुआ है। मासूम बच्चे को बचाने के लिए बबीना से सेना की रेस्क्यू टीम पहुंची है। सेना ने बोरवेल के भीतर कैमरा भेजा जिससे पता चला है कि बच्चा जीवित है। अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार बच्चे के रोने की आवाज आ रही है। बच्चे के लिए ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है।

खुद बच्चे ने हटाया था निर्माणाधीन बोरवेल का ढ़क्कन

पृथ्वीपुर थाना इलाके के शैतपुरा गांव का यह मामला है। जहां चार साल का बच्चा प्रहलाद कुशवाह अपने खेत में खेल रहा था। खेलते-खेलते वह अपने खेत में बने बोरवेल में गिर गया। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि बोरवेल ढंका हुआ था जिसे बच्चे ने ही खोला और उसमें गिर गया।

परिजनों का कहना है कि कुछ दिन पहले ही बोरवेल करवाया गया था, अभी उसमें काम चल रहा था। बोरवेल के ऊपर एक तसला ढंका हुआ था। जिसे खुद बच्चे ने हटाया और खेलते हुए गिर गया। बबीना से लेफ्टिनेंट कर्नल 4 जेसीबी के साथ मौके पर पहुंचे। वहीं एसडीआरएफ की टीम भी मौजूद है। बच्चे के लिए बोरवेल में ऑक्सीजन सिलेंडर की मदद से ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है। बच्चे के बोरवेल में गिरने से उसके परिजनों का बुरा हाल है। गांव में बच्चे की सलामती की दुआ मांगी जा रही है।