2024 में 50 सीटों तक सिमट सकती है बीजेपी, सीएम नीतीश ने किया विपक्षी एकता का आह्वान

नीतीश कुमार ने शनिवार को कहा कि 2024 के चुनावों में भाजपा 50 सीटों पर सिमट सकती है, अगर सभी विपक्षी दल एक साथ आकर चुनाव लड़ते हैं। उन्होंने कहा कि मैं सभी को साथ लाने के लिए काम कर रहा हूं।

Updated: Sep 04, 2022, 10:42 AM IST

2024 में 50 सीटों तक सिमट सकती है बीजेपी, सीएम नीतीश ने किया विपक्षी एकता का आह्वान

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मणिपुर के जेडीयू के पांच विधायकों के पार्टी छोड़ने पर बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने विपक्षी एकता की पैरवी करते हुए कहा कि साल 2024 में बीजेपी 50 सीटों पर सिमट सकती है। मैं सभी को साथ लाने के लिए काम कर रहा हूं। बता दें कि मणिपुर जेडीयू के 6 में से 5 विधायक पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए हैं।

सीएम नीतीश ने मानपुर में पार्टी टूटने को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, 'एक बात तो साबित हो रही है कि ये किस तरह का काम लोग कर रहे हैं।।अन्य पार्टियों से लोगों को अपनी तरफ लाना और खींचना, ये काम जो लोग कर रहे हैं, क्या यह संवैधानिक चीज है? ये कोई सही काम है? इसलिए विपक्ष के सभी लोग एकजुट होंगे तो 2024 के चुनाव में देश की जनता का निर्णय बहुत अच्छा आ जाएगा। तब इन लोगों को पता चलेगा।'

यह भी पढ़ें: PDS शॉप पर ही नहीं... सिलेंडर पर भी मोदी जी की तस्वीर, तेलंगाना में PM की तस्वीर के साथ भेजा जा रहा सिलेंडर

नीतीश कुमार ने आगे कहा कि, '2024 के चुनावों में भाजपा 50 सीटों पर सिमट सकती है, अगर सभी विपक्षी दल एक साथ आकर चुनाव लड़ते हैं। मैं सभी को साथ लाने के लिए काम कर रहा हूं। अभी जो हम लोगों ने निर्णय किया कि हम एनडीए से अलग होंगे, तो सभी राज्यों में पार्टी के लोगों से बात हो गई थी। मणिपुर के छह के छह एमएलए 10 तारीख के बाद यहां पर आए थे और खुशी प्रकट कर रहे थे। वे हमारे साथ में थे, मिलने आए थे। अब लेकिन यह सोच लीजिए कि हो क्या रहा है? वे किसी पार्टी के जीतने वाले लोगों को किस तरह से अपनी तरफ ले रहे हैं।'

नीतीश कुमार ने कहा कि, 'जब हम लोग एलायंस में साथ थे तब किसी को बनाया, अपने यहां? कभी नहीं... और बाद में सबको अपने पास लेकर जाना है।यह कौन सा स्वभाव है? किस प्रकार का काम है? इस तरह की कोई चीज पहले से चलती रही है? एक नए ढंग से इस तरह का काम किया जा रहा है। उसमें क्या है, मणिपुर के सभी जेडीयू विधायक कुछ दिन पहले तो आए थे। जाने दीजिए जो करता है, उससे क्या फर्क पड़ता है?'