स्पाईगिरी करने पर उतारू हो गई है मोदी सरकार, ममता ने साधा मोदी सरकार पर निशाना

ममता ने कहा कि बीजेपी ने लोकतंत्र पर बुलडोज़र चला दिया है, हमें केंद्र को प्लास्टर करना होगा नहीं तो देश बर्बाद हो जाएगा

Updated: Jul 22, 2021, 05:50 AM IST

स्पाईगिरी करने पर उतारू हो गई है मोदी सरकार, ममता ने साधा मोदी सरकार पर निशाना

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस के शहीद दिवस के अवसर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। पेगासस जासूसी काण्ड से लेकर गंगा में तैरती लाशों को लेकर ममता ने मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया है। ममता ने पेगासस जासूसी काण्ड को लेकर कहा है कि मोदी सरकार स्पाईगिरी करने पर उतारू हो गई है।  

ममता बनर्जी ने अपने संबोधन के दौरान अपने फोन का कैमरा दिखाते हुए कहा कि मैं फोन के कैमरे को प्लास्टर कर लिया है।  ममता ने कहा कि क्या करेगा फ़ोन रख के क्या करेगा? सब सुन लेता है। मैंने कैमरा को प्लास्टर लगा दिया। ममता ने कहा कि ऐसे ही केंद्र सरकार को प्लास्टर करना होगा। नहीं तो देश बर्बाद हो जाएगा। ममता ने कहा कि भाजपा सरकार ने देश के संघीय ढाँचे पर बुलडोज़र चला दिया है। 

इसके साथ ही ममता ने उत्तर प्रदेश में गंगा में तैरती लाशों को लेकर भी मोदी और योगी सरकार पर निशाना साधा। ममता ने कहा कि मृत्यु के बाद लाशों को गंगा में फेंक दिया गया। लेकिन प्रधानमंत्री की नज़र में यूपी सर्वश्रेष्ठ राज्य है, शर्म नहीं लगता है? ममता ने कहा कि “वैक्सीन नहीं, मेडिसिन नहीं,ऑक्सीजन नहीं, कोविड में जब मर जाता है तो गंगा में डेड बॉडी भेज देता है और प्राइम मिनिस्टर कहते है यूपी इज़ द बेस्ट स्टेट इन दिस कंट्री(यूपी इस देश का सबसे अच्छा राज्य है)..शरम नहीं लगता है..कोई शरम नहीं लगता है।'' ममता ने कहा कि मरने वालों का अंतिम संस्कार नहीं किया और बड़ा बड़ा बात करता है।  कोविड में आपका फेल्योर मॉनुमेंटल फेल्योर है।  

यह भी पढ़ें : यूपी सरकार की तारीफ़ पर पीएम मोदी से ममता बनर्जी का सवाल, कोरोना काल में गंगा में बहकर बंगाल तक क्यों आयी लाशें

ममता ने कहा कि बीजेपी को हर राज्य से बेदखल करने का खेला भी जल्द होगा। हम 16 अगस्त को खेला दिवस के तौर पर मनाएंगे। हम इस दिन गरीब बच्चों को फुटबॉल देंगे। आज आज़ादी खतरे में हैं। इन्हें अपने ही मंत्रियों पर भरोसा नहीं है। ये लोग एजेंसियों का भी दुरूपयोग करते हैं। ममता ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों का ज़िक्र करते हुए कहा कि मैं अपने राज्य के लोगों और देशवासियों को बधाई देना चाहती हूँ। हमने पैसा, माफिया, एजेंसियों के विरुद्ध जमकर लड़ाई की। तमाम विषम परिस्थितियों के बावजूद हमने जीत हासिल की, क्योंकि बंगाल के लोगों ने हमे वोट किया और देश भर के लोगों की प्रार्थनाएं हमारे साथ थीं।  

दरअसल ममता बनर्जी आज त्रिपुरा, असम, गुजरात सहित देश भर के विभिन्न हिस्सों में लोगों से वर्चुअली संवाद कर रही हैं। ममता के इस संबोधन को टीएमसी का राष्ट्रीय स्तर पर वजूद तलाशने के तौर पर देखा जा रहा है। खुद 25 जुलाई को ममता बनर्जी दिल्ली में जाकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार सहित अन्य विपक्षी नेताओं से भी मुलाक़ात करने वाली हैं।