दिल्ली शराब नीति मामले में ED का एक्शन, दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का मामला, 30 ठिकानों पर छापेमारी

ईडी ने मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल 30 जगहों पर छापेमारी की खबरें भी आ रही है।

Updated: Sep 06, 2022, 11:35 AM IST

दिल्ली शराब नीति मामले में ED का एक्शन, दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का मामला, 30 ठिकानों पर छापेमारी

नई दिल्ली। दिल्ली में शराब नीति पर आप सरकार की मुसीबतें कम होती नहीं दिख रही है। अब ईडी ने मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल 30 जगहों पर छापेमारी की खबरें भी आ रही है, लेकिन फिलहाल दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के यहां रेड की कोई खबर नहीं है।

बता दें कि मनीष सिसोदिया ने ईडी की छापेमारी पर बयान दिया है कि पहले इन्होंने सीबीआई के छापे मारे इस में कुछ नहीं मिला। अभी ईडी के छापे मारेंगे इसमें कुछ नहीं निकलेगा। देश में जो शिक्षा का माहौल बना हुआ है अरविंद केजरीवाल जी जो काम कर रहे हैं उसे रोकने का काम हो रहा है, लेकिन उसे रोक नहीं पाएंगे। यह सीबीआई यूज कर ले ये ईडी यूज कर ले। उसे रोक नहीं पाएंगे शिक्षा के काम को रोक नहीं पाएंगे। मेरे पास ज्यादा सूचना नहीं है । मेरी क्या तैयारी है मैंने ईमानदारी से काम किया है 4 स्कूलों के नक्शे और उन्हें मिल जाएंगे।

यह भी पढ़ें: बच्चों का आहार खा गई सरकार, चारा घोटाले की तर्ज पर MP में आहार घोटाला, CM चौहान के पास है मंत्रालय

बता दें कि दिल्ली की शराब नीति को लेकर बीजेपी और आप के बीच पहले से ही खींचतान जारी है। एक तरफ जहां बीजेपी आरोप लगा रही कि आप ने नई शराब नीति में खूब माल कमाया। वहीं आप बीजेपी के इस आरोप को बकवास बता चुकी है।

इससे पहले केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ( CBI) द्वारा 17 अगस्त को ये मामला दर्ज किया गया था। उसके बाद इस मामले में सीबीआई ने 30 से ज्यादा लोकेशन पर सर्च ऑपरेशन चलाया था। सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर के मुताबिक आबकारी विभाग के मंत्री मनीष सिसोदिया को सबसे पहला और मुख्य आरोपी बनाया गया था। इस केस में कई अज्ञात आरोपियों, कंपनियों समेत कुल 16 लोगों को आरोपी बनाया गया था। सीबीआई द्वारा दर्ज इसी मामले को टेकओवर करके ईडी इसमें मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत जांच कर रही है।