ओडिशा: अपनी ही शादी में नहीं पहुंचे BJD MLA, प्रेमिका ने लगाए गंभीर आरोप, FIR दर्ज

महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि बिजय शंकर चुनावी खर्च जुटाने के लिए सेक्स रैकेट चलाता था और इस संबध में उसके खिलाफ कटक और भुवनेश्वर में कई मामले लंबित है।

Updated: Jun 19, 2022, 09:35 AM IST

ओडिशा: अपनी ही शादी में नहीं पहुंचे BJD MLA, प्रेमिका ने लगाए गंभीर आरोप, FIR दर्ज
Courtesy : English Sambad

भुवनेश्वर। बीजू जनता दल के विधायक बिजय शंकर दास अपनी ही शादी में नहीं पहुंचे। इस संबंध में महिला ने विधायक पर अपनी ही शादी में नहीं आने,धोखाधड़ी, विधायक के परिजनों पर धमकाने सहित विभिन्न मामलों में पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है।

महिला ने आरोप लगाया कि रजिस्ट्रार कार्यालय में विवाह पंजीयन कराने MLA बिजय शंकर दास नही पहुंचे। पुलिस के मुताबिक तिरतोल के विधायक दास (30) के खिलाफ जगतसिंहपुर सदर थाने में एक महिला की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया है।

प्रभारी निरीक्षक प्रवास साहू ने बताया कि उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी), 195ए (किसी भी व्यक्ति को झूठे सबूत देने की धमकी देना), 294 (अश्लील हरकतें और गाने), 509 (शब्द, हावभाव या किसी महिला की मर्यादा का अपमान करने के इरादे से काम करना), 341 (गलत तरीके से रोकने के लिए सजा), 120 बी (आपराधिक साजिश की सजा) और 34 (सामान्य इरादे से कई लोगों द्वारा किए गए कार्य) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

प्राथमिकी के अनुसार, दंपति ने 17 मई को मैरिज रजिस्ट्रार के कार्यालय में आवेदन किया। हालांकि महिला अपने परिवार के साथ तय 30 दिनों के बाद शुक्रवार को शादी की औपचारिकताओं के लिए वहां पहुंची, विधायक उपस्थित नहीं हो पाए।

विधायक बिजय दास ने कहा कि उन्होंने उससे शादी करने से इनकार नहीं किया है, वह नही आ पाए क्योंकि उन्हें विवाह रजिस्ट्रार कार्यालय आने की सूचना नहीं दी गई थी। उन्होंने पत्रकारों से कहा, "शादी के पंजीकरण के लिए और 60 दिन बाकी हैं। इसलिए, मैं नहीं आया। मुझे उसने या किसी और ने विवाह रजिस्ट्रार के कार्यालय जाने के लिए सूचित नहीं किया।" 

यह भी पढ़ें: नौजवानों को आग में झोंकने की योजना है अग्निपथ, चार साल बाद युवाओं का ब्याह भी नहीं होगा: कन्हैया कुमार

वहीं महिला ने आरोप लगाया कि वह तीन साल से दास के साथ रिश्ते में है और उसने तय तारीख पर उससे शादी करने का वादा किया। लेकिन दुर्भाग्य से उनके भाई और परिवार के अन्य सदस्य मुझे धमकी दे रहे हैं। उन्होंने अपना वादा नहीं निभाया और वह मेरे फोन कॉल का जवाब नहीं दे रहे हैं। 

इसके अगले दिन महिला ने पुलिस थाने में बीजद विधायक पर सेक्स रैकेट चलाने, मैट्रिक की मार्कशीट से छेड़छाड़ करने की भी शिकायत दर्ज कराई। महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि बिजय शंकर चुनावी खर्च जुटाने के लिए सेक्स रैकेट चलाता था और इस संबध में उसके खिलाफ कटक और भुवनेश्वर में कई मामले लंबित है।

गौरतलब है कि बिजय, वरिष्ठ बीजद नेता व पूर्व मंत्री स्व. विष्णु दास के बेटे है और तिरतोल उपचुनाव में पहली बार विधायक बने हैं।