उत्तराखंड के पूर्व मंत्री ने की आत्महत्या, पोती से दुष्कर्म के झूठे आरोप से थे आहत

राजेंद्र बहुगुणा ने बुधवार को 112 नंबर पर पुलिस को कॉल कर बताया कि वो टैंक के ऊपर चढ़ कर आत्महत्या कर रहे हैं, इसके बाद ख़ुद को गोली मार ली, बहू ने लगाए थे दुष्कर्म के आरोप

Updated: May 27, 2022, 09:19 PM IST

उत्तराखंड के पूर्व मंत्री ने की आत्महत्या, पोती से दुष्कर्म के झूठे आरोप से थे आहत

देहरादून। उत्तराखंड के पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री राजेंद्र बहुगुणा ने बुधवार को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। कांग्रेस के राजेंद्र बहुगुणा ने बुधवार को हल्द्वानी में ओवरहेड टैंक पर चढ़कर ख़ुद को गोली मार ली। बहुगुणा पर उनकी पुत्रवधु ने पोती से यौन शोषण करने के आरोप लगाए थे, इसी वजह से वे परेशान चल रहे थे।

पुलिस के अनुसार बहुगुणा पारिवारिक विवाद में बहू के द्वारा उन पर लगाए गए गंभीर आरोपों से आहत थे। वह पारिवारिक विवाद और इस संबंध में बहू की तरफ से लगाए गए आरोपों को लेकर बेहद तनाव महसूस कर रहे थे। नैनीताल के एसएसपी पंकज भट्ट के मुताबिक बहुगुणा के खिलाफ़ तीन दिन पहले पोती से दुष्कर्म का मुक़दमा दर्ज़ किया गया था जिससे वो आहत थे। बहुगुणा ने ख़ुद बुधवार को 112 नंबर पर पुलिस को कॉल कर बताया कि वो टैंक के ऊपर चढ़ कर आत्महत्या कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: आर्यन खान को फंसाने के चक्कर में खुद फंसे समीर वानखेड़े, घटिया जांच को लेकर कार्रवाई के निर्देश

आत्महत्या करने से पहले मौक़े पर पहुंचकर पुलिस ने लाउडस्पीकर की मदद से बहुगुणा को समझाने की कोशिश की पर पूर्व मंत्री बार-बार पुलिस को बताते रहे कि वो बेगुनाह हैं। बाद में बहुगुणा ने अपने सीने पर गोली मार ली और उनकी मौक़े पर ही मौत हो गई। पुलिस ने इस पूरे मामले मे राजेंद्र बहुगुणा की बहू, समधी और पड़ोसी के ख़िलाफ़ आत्महत्या के लिए उकसाने की धारा में मुक़दमा दर्ज़ किया है। राजेंद्र बहुगुणा के बेटे अजय की शिकायत पर पुलिस ने मुक़दमा दर्ज़ किया है।

पड़ोसियों के अनुसार बहू ने उनके ऊपर पोती से जब दुराचार का आरोप लगाया था, उससे वे बेहद आहत हो गए। अभी इस मामले में पुलिस ने बच्ची का बयान नहीं लिए थे। राजेंद्र बहुगुणा के परिवार में काफी समय से कलह चल रही थी। उनके बेटे का अपनी पत्नी से मनमुटाव चल रहा था। वह पति से दूर घर के दूसरे कमरे में रह रही थी। बेटे ने पत्नी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें पिता को आत्महत्या के लिए उकसाने की बात दर्ज है।