जस्टिस यूयू ललित हो सकते हैं देश के अगले चीफ जस्टिस, CJI रमना ने केंद्र से की सिफारिश

जस्टिस उदय उमेश ललित भारत के अगले और 49वें मुख्य न्यायाधीश हो सकते हैं, सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने देश के अगले मुख्य न्यायाधीश के लिए उनके नाम की सिफारिश की है

Updated: Aug 04, 2022, 01:40 PM IST

जस्टिस यूयू ललित हो सकते हैं देश के अगले चीफ जस्टिस, CJI रमना ने केंद्र से की सिफारिश

नई दिल्ली। जस्टिस उदय उमेश ललित देश के अगले मुख्य न्यायाधीश हो सकते हैं। CJI रमना ने देश के अगले मुख्य न्यायाधीश के लिए जस्टिस यूयू ललित के नाम की सिफारिश की है। CJI रमणा ने सिफारिशी पत्र कानून और न्याय मंत्री को सीलबंद लिफाफे में सौंप दिया है।

केंद्र सरकार यदि जस्टिस यूयू ललित के नाम कि सिफारिश मान लेती है तो वे देश के 49वें CJI बन जाएंगे। मौजूदा मुख्य न्यायधीश एनवी रमना 26 अगस्त को सेवा निवृत हो जाएंगे। दरअसल, कानून मंत्री किरण रिजिजू ने सीजेआई रमना को पत्र लिखकर उनसे अपने उत्तराधिकारी के नाम कि सिफारिश करने का अनुरोध किया था।

यह भी पढ़ें: हम नरेंद्र मोदी से नहीं डरते, जो करना है कर लें, पुलिस की घेराबंदी पर राहुल गांधी ने दिखाए तेवर

रिजिजू का पत्र 3 अगस्त को देर शाम सीजेआई दफ्तर को मिला था। परंपरा के मुताबिक अपने रिटायरमेंट से करीब एक महीना पहले चीफ जस्टिस बंद लिफाफे में अपने उत्तराधिकारी के नाम की सिफारिश कानून और न्याय मंत्रालय के जरिए राष्ट्रपति को भेजते हैं। आमतौर पर सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठतम न्यायाधीश यानी वरिष्ठता क्रम में नंबर दो का नाम ही लिफाफे में होता है।

चीफ जस्टिस के तौर पर कोई कार्यकाल निर्धारित नहीं है। सुप्रीम कोर्ट में न्यायाधीशों की सेवानिवृत्ति की आयु संविधान के तहत 65 वर्ष निर्धारित की गई है। जस्टिस ललित 27 अगस्त को 49वें सीजेआई के रूप में शपथ ले सकते हैं। हालांकि उनका कार्यकाल महज 74 दिनों का होगा। सीजेआई के रूप में जस्टिस ललित उस कॉलेजियम का नेतृत्व करेंगे जिसमें जस्टिस चंद्रचूड़, जस्टिस कौल, जस्टिस नजीर और जस्टिस इंदिरा बनर्जी शामिल होंगी।