Republic Day 2021: देश मना रहा 72वां गणतंत्र दिवस, राजपथ पर पूरी हुई परेड

देश मना रहा है गणतंत्र घोषित होने की 72वीं सालगिरह, आज के दिन ही लागू हुआ था आज़ाद भारत का नया संविधान, सन 1950 में पहली बार निकाली गई थी परेड

Updated: Jan 26, 2021 11:47 AM IST

गणतंत्र दिवस की परेड का समापन

नई दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड अब से थोड़ी देर पहले पूरी हो गई। परेड का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ। उससे पहले राफेल विमान ने आसमान में शानदार करतब दिखाए। 

राजपथ पर अलग-अलग स्कूलों का प्रदर्शन

राजपथ गणतंत्र दिवस की परेड में अभी राजपथ पर अलग-अलग स्कूलों की तरफ प्रदर्शन किया जा रहा है। स्कूली बच्चे अलग-अलग थीमों पर आधारित कार्यक्रम पेश कर रहे हैं। 

राज्यों के बाद अब मंत्रालयों, विभागों की झांकियों की बारी

गणतंत्र दिवस परेड के दौरान राज्यों की झांकियों का सिलसिला खत्म होने के बाद अब एक के बाद एक अलग-अलग मंत्रालयों और विभागों की झांकियों का सिलसिला चल रहा है। 

अरुणाचल प्रदेश की झांकी में पूरब और पश्चिम का मिलन

अरुणाचल प्रदेश की झांकी में प्रदेश की प्राकृतिक खूबसूरती के साथ ही साथ पूरब और पश्चिम का मिलन भी देखने को मिलता है। 

केरल की झांकी में नारियल, कथकली और किसान

केरल की झांकी में नारियल के पेड़, नारियल की खेती करने वाले किसान और राज्य के मशहूर कथकली नृत्य की झलक दिखाई गई है। साथ ही इसमें नारियल आधारित लघु उद्योगों पर भी ज़ोर दिया गया है। 

कर्नाटक की झांकी में विजय नगर

कर्नाटक की झांकी में राज्य के इतिहास की झलक दिखाने वाली विजय नगर की झांकी बेहद खूबसूरती से दिखाई गई है।

दिल्ली की झांकी में अनेकता में एकता पर ज़ोर

राजधानी दिल्ली की झांकी में अनेकता में एकता पर ज़ोर दिया गया है। इसमें सभी धर्मों के प्रतीकों के साथ ही शाहजहानाबाद पुनर्निर्माण की झलक भी दिखाई गई है। 

उत्तर प्रदेश की झांकी में राम मंदिर की झलक

उत्तर प्रदेश की झांकी में अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर की झलक दिखाई गई है।

पश्चिम बंगाल की झांकी में शिक्षा पर ज़ोर

पश्चिम बंगाल की झांकी में शिक्षा पर ज़ोर दिया गया है। इसमें किताबें और स्कूल-कॉलेज जा रहे छात्र-छात्राओं के दृश्य दिखाए गए हैं। बंगाल भारतीय पुनर्जागरण का केंद्र रहा है और अपनी बौद्धिक प्रखरता के लिए भी मशहूर है। ऐसे में राज्य की झांकी में शिक्षा पर जोर दिया जाना स्वाभाविक ही है।

त्रिपुरा की झांकी में पर्यावरण और आत्मनिर्भरता का मुद्दा

उत्तर पूर्व के राज्य त्रिपुरा की झांकी में पर्यावरण और आत्मनिर्भरता के मुद्दों पर खास ज़ोर दिया गया है। इसमें ऐसे विकास की वकालत की गई है, जो पर्यावरण के लिए भी नुकसानदेह न हो।

पंजाब की झांकी में गुरु तेगबहादुर की याद

पंजाब की झांकी में गुरु तेगबहादुर की 400वीं जयंति को याद किया गया है। 

छत्तीसगढ़ की झांकी में लोक नृत्य और संगीत का खूबसूरत नज़ारा

छत्तीसगढ़ की झांकी में राज्य के लोक नृत्य और संगीत का खूबसूरत नज़ारा देखने को मिल रहा है। नर्तकों और ढोल बजाने वालों की टोली बेहद दिलकश अंदाज़ में अपने राज्य की समृद्ध सांस्कृतिक परंपरा की झलक देश के सामने पेश कर रही है। 

उत्तराखंड की झांकी में केदारनाथ मंदिर की झलक

उत्तराखंड की झांकी में केदारनाथ मंदिर की झलक दिखाई गई है। यह देश के बारह ज्योतिर्लिंगों में शामिल है। 

महाराष्ट्र्र की झांकी में राज्य की संत परंपरा की झलक

महाराष्ट्र्र की झांकी में राज्य की संत परंपरा की झलक दिखाई गई है। 

तमिलनाडु की झांकी में शोर मंदिर और पल्लव कालीन स्थापत्य कला की झलक

तमिलनाडु की झांकी में शोर मंदिर और पल्लव कालीन स्थापत्य कला की झलक देखने को मिली। साथ ही राज्य के नृत्य संगीत का नज़ारा भी देखने लायक था। 

असम की झांकी में चाय से लेकर गैंडे तक की झलक

असम की झांकी में चाय बागानों से लेकर एक सींग वाले गैंडे और असमिया नृत्य की झलत भी देखने को मिली।

गुजरात के मोढेरा सूर्य मंदिर की झांकी

गुजरात की झांकी में मोढेरा के सूर्य मंदिर का दृश्य दिखाया गया है। इस झांकी में सूर्य मंदिर के साथ ही गुजरात के गीत-संगीत और नृत्य का नज़ारा भी पेश किया गया।

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की झांकी पहली बार परेड में

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की झांकी पहली बार परेड में शामिल हो रही है।

मिक्स एंड पाइप बैंड का जत्था राजपथ पर

राजपथ पर मिक्स एंड पाइप बैंड का जत्था आने के साथ ही अब परेड में सांस्कृतिक झांकियों का सिलसिला शुरू हो चुका है। 

NCC के युवा कैडेट का जत्था परेड में शामिल

NCC के युवा कैडेट का जत्था भी गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल है। नेशनल कैडेट कोर के जरिए स्कूल के बच्चों को ट्रेनिंग देनी शुरू की जाती है जो कॉलेज-यूनिवर्सिटी तक जारी रहती है। एनसीसी की ट्रेनिंग एक कुशल सैनिक बनने की बुनियाद रखने का काम करती है। साथ ही इससे युवाओं में अनुशासन भी पैदा होता है।

ब्लैक ड्रेस में NSG के जाँबाज़ कमांडो

परेड में इस वक्त अपनी ब्लैक ड्रेस में NSG के जाँबाज़ कमांडो सलामी देते हुए गुज़र रहे हैं। यह देश के सबसे ज़बरदस्त ट्रेनिंग वाले कमांडो का दस्ता है। ये कमांडो एंटी टेरर और एंटी हाईजैक ऑपरेशन में खास तौर पर माहिर होते हैं। इन कमांडो की ज़रूरत सबसे मुश्किल हालात में पड़ती है, इसलिए इनकी ट्रेनिंग और इनके हथियार भी सबसे खास होते हैं। 

बीएसएफ़ के ऊँट सवार जवानों का शानदार दस्ता राजपथ पर

राजपथ पर अभी नज़र आ रहा है बीएसएफ़ के ऊँट सवार जवानों का शानदार दस्ता। शानदार सज-धज वाले इन ऊंटों पर सवार जवानों का यह दस्ता अपनी राजसी पोशाक में बिलकुल खास नज़र आता है।  

आईटीबीपी का दस्ता राजपथ पर आगे बढ़ता हुआ

राजपथ पर अभी आईटीबीपी का दस्ता राष्ट्रध्वज को सलामी देता हुआ आगे बढ़ रहा है। इसके बाद दिल्ली पुलिस के जवान परेड में शामिल हो रहे हैं। दिल्ली पुलिस के जवान शुरुआत से ही परेड का हिस्सा रहे हैं। 

अर्धसैनिक बलों के जवान दे रहे सलामी

परेड में इस वक्त अर्धसैनिक बलों के चुने हुए जवान परेड राजपथ पर सलामी देते हुए आगे बढ़ रहे हैं। सीआरपीएफ का दस्ता अभी नज़र आ रहा है।इसकी गिनती दुनिया के सबसे बड़े और पुराने अर्धसैनिक बलों में होती है।

नौसेना की झांकी में युद्धपोत से उड़ान भरने वाले लड़ाकू विमान शामिल

भारतीय नौसेना की झांकी में उन लड़ाकू विमानों को भी शामिल किया गया है जो युद्धपोत से उड़ान भरने की क्षमता रखते हैं। 

भारतीय वायुसेना की खूबसूरत और आकर्षक झांकी

भारतीय वायुसेना की खूबसूरत और आकर्षक झांकी में रोहिणी राडार और सुखोई विमान का दमखम दिखाई दे रहा है। इसकी अगुवाई महिला विंग कमांडर कर रही हैं। 

राजपथ पर नौसेना की झांकी

गणतंत्र दिवस की परेड में राजपथ पर अभी नौसेना की झांकी नज़र आ रही है। जिसमें कराची बंदरगाह पर हमले की याद दिलाने वाली झांकी सजाई गई है। 1971 के इस हमले का पाकिस्तान के खिलाफ भारत की जीत में बड़ा योगदान था। 

हेलिकॉप्टर रुद्र और ध्रुव का शानदार प्रदर्शन

परेड में इस वक्त रुद्र और ध्रुव हेलिकॉप्टर्स का शानदार प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। ये दोनों हेलिकॉप्टर युद्ध के हालात में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

ब्रिज लेयर टी-72 टैंकों का बेड़ा राजपथ पर

गणतंत्र दिवस परेड में ब्रिज लेयर टी-72 टैंकों का बेड़ा राजपथ पर नज़र आ रहा है। DRDO का बनाया यह टैंक मुश्किल इलाकों में होने वाले युद्ध की स्थिति में बेहद उपयोगी है। टैंक के साथ - साथ इसमें ब्रिज भी जुड़ा हुआ है, जो इसे खाइयों को पार करके आगे बढ़ने की क्षमता प्रदान करता है। 

ब्रह्मोस मिसाइल का प्रदर्शन

राजपथ पर अभी ब्रह्मोस मिसाइलों की झांकी निकल रही है, जिसे भारत और रूस ने मिलकर बनाया है।  

राजपथ पर अभी भारतीय टैंकों का प्रदर्शन

गणतंत्र दिवस की परेड के दौरान राजपथ पर अभी भारतीय टैंकों का प्रदर्शन हो रहा है। अति आधुनिक टी-90 टैंकों का बेड़ा अभी राजपथ पर है। यह टैंक लेज़र गाइडेड मिसाइल से लैस है, जो दुश्मन के हेलिकॉप्टर को भी नष्ट कर सकता है। 

आज परेड में पहली बार राफ़ेल लड़ाकू विमान शामिल हो रहे हैं

गणतंत्र दिवस की परेड में आज पहली बार फ्रांस से खरीदे गए अत्याधुनिक राफेल लड़ाकू विमान शामिल हो रहे हैं। इन विमानों को भारतीय वायुसेना की नई ताकत माना जा रहा है। 

परेड में इस बार झांकियों की संख्या कम है, लंबाई भी घटी

कोरोना महामारी की वजह से इस बार गणतंत्र दिवस की परेड में झांकियों की संख्या 144 से घटाकर 96 कर दी गई है। परेड की लंबाई भी तकरीबन 8 किलोमीटर से घटकर करीब 3 किलोमीटर रह गई है। इन झांकियों में शामिल सभी लोगों की परेड से पहले कोविड टेस्टिंग की गई है।

गणतंत्र दिवस की परेड शुरू, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ले रहे हैं सलामी

राष्ट्रगान के बाद गणतंत्र दिवस की परेड शुरू हो चुकी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद परेड की सलामी ले रहे हैं। कोरोना महामारी की वजह से इस बार परेड में बेहद कम लोग शामिल हो रहे हैं। 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सलामी मंच पर पहुँचे

नई दिल्ली में राजपथ पर होने वाली गणतंत्र दिवस परेड की सलामी लेने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सलामी मंच पर पहुँच चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उनके साथ मौजूद हैं। राष्ट्रगान के बाद परेड शुरू हो जाएगी। इससे पहले उन्हें इक्कीस तोपों की सलामी दी गई।