बीजेपी का ऑपरेशन लोटस बेनकाब, झारखंड के विधायकों के पास से कैश मिलने पर बोली कांग्रेस

झारखंड कांग्रेस के विधायकों से हावड़ा में भारी मात्रा में कैश बरामद किया गया है, पार्टी ने इसके पीछे बीजेपी का हाथ बताया है, कांग्रेस का दावा है कि हेमंत सोरेन सरकार गिराने के लिए ये रुपए दिए गए थे

Updated: Jul 31, 2022, 01:09 PM IST

बीजेपी का ऑपरेशन लोटस बेनकाब, झारखंड के विधायकों के पास से कैश मिलने पर बोली कांग्रेस

नई दिल्ली। झारखंड के तीन कांग्रेसी विधायकों के पश्चिम बंगाल में कैश के साथ पकड़े जाने पर कांग्रेस केंद्र सरकार पर हमलावर हो गई है। कांग्रेस पार्टी ने दावा किया है कि झारखंड में हेमंत सोरेन कि सरकार गिराने के लिए इन रुपयों का इस्तेमाल किया जाना था। इसके पीछे बीजेपी का हाथ बताया गया है।

मामले पर कांग्रेस के राष्ट्रीय संचार प्रभारी जयराम रमेश ने कहा कि बीजेपी का ऑपरेशन लोटस बेनकाब हो गया है। जयराम रमेश ने ट्वीट किया, 'झारखंड में भाजपा का 'ऑपरेशन लोटस' आज की रात हावड़ा में बेनकाब हो गया। दिल्ली में 'हम दो' का गेम प्लान झारखंड में वही करने का है जो उन्होंने महाराष्ट्र में एकनाथ-देवेंद्र(E-D) की जोड़ी से करवाया।'

दरअसल, झारखंड से कांग्रेस के तीन विधायकों को शनिवार रात पुलिस ने पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में रोका। उनके वाहन की चेकिंग की गई तो उसमें भारी मात्रा में कैश मिले। इसके बाद कांग्रेस एक्शन मोड़ में आ गई है। पार्टी ने तीनों विधायकों को सस्पेंड कर दिया है। 

झारखंड कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष बंधु टिर्की ने कहा, ‘हेमंत सोरेन सरकार के सत्ता में आने के बाद से ही बीजेपी उसे अस्थिर करने का प्रयास कर रही है। अगर हम देखें कि महाराष्ट्र और कुछ अन्य राज्यों में क्या हुआ तो यह साफ हो जाएगा कि बीजेपी सरकारों को सत्ता से बाहर करने के लिए धन का प्रयोग करती है। झारखंड सरकार गिराने के लिए कांग्रेस विधायकों को कैश दिया गया था।'

कांग्रेस के बयान का समर्थन करते हुए पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया कि विधायकों की खरीद-फरोख्त और झामुमो नीत झारखंड सरकार को संभावित रूप से सत्ता से बाहर करने की खबरों के बीच नकदी बरामद की गई है। टीएमसी ने पूछा कि इस धन का स्रोत क्या है? क्या कोई केंद्रीय एजेंसी इस पर स्वत: संज्ञान लेगी? या नियम चुनिंदा लोगों पर ही लागू होते हैं?