हेलीकॉप्टर क्रैश live: जनरल बिपिन रावत का पार्थिव शरीर आज लाया जाएगा दिल्ली, कल होगा अंतिम संस्कार

Mi17V5 हेलीकॉप्टर सुलुर एयरबेस से सुबह 11.48 पर उड़ा था, उसे 12.15 पर वेलिंगटन पहुंचना था लेकिन सुलुर एयरबेस का संपर्क 12.08 मिनट पर ही उस हेलीकॉप्टर से टूट गया, इसके बाद लोगों ने जंगलों में हेलीकॉप्टर को आग के गोला में तब्दील होते हुए देखा। लोकसभा ने मौन रखकर जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और उनके साथ जान गंवानेवाले सभी लोगों को श्रद्धांजलि दी

Updated: Dec 09, 2021 11:25 AM IST

नई दिल्ली। देश के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर तमिलनाडु के कुन्नूर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में जनरल रावत और उनकी पत्नी मधुलिका समेत 13 लोगों की मौत हो गई है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह इस घटना को लेकर आज संसद में बयान देंगे। जनरल रावत का पार्थिव शरीर आज एक विशेष सैन्य विमान से दिल्ली लाया जाएगा।

मद्रास पहुंचा पार्थिव शरीर

हेलीकॉप्टर दुर्घटना में जान गंवाने वाले सभी 13 लोगों का पार्थिव शरीर वेलिंगटन मिलिट्री हॉस्पिटल से मद्रास रेजिमेंटल सेंटर लाया गया है। यहां सैन्य सम्मान के साथ उन्हें वायु सेना के विशेष एयरक्राफ्ट से दिल्ली भेजा जाएगा। दिल्ली स्थित छावनी में शुक्रवार को जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

लाइफ सपोर्ट पर हैं वरुण सिंह: रक्षा मंत्री

लाइफ सपोर्ट पर हैं वरुण सिंह: रक्षा मंत्री

राजनाथ सिंह ने इस हादसे के एक मात्र सर्वाइवर कैप्टन वरुण सिंह के बारे में बताया कि वे लाइफ स्पोर्ट पर हैं। सिंह के मुताबिक वरुण की हालत क्रिटिकल लेकिन स्थिर है और उन्हें बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

 

बचाने की पूरी कोशिश हुई: रक्षा मंत्री

लोकसभा को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि, 'जनरल रावत अपने शेड्यूट विजिट पर थे और इनके हेलीकॉप्‍टर को 12:15 पर वेलिंगटन लेंड करना था। लेकिन 12.08 बजे संपर्क टूट गया। बाद में जगल में स्‍थानीय लोगों ने क्रैश के बारे में सूचित किया। सूचना मिकते ही वहां बचाव दल पहुंच गया। दुर्घटनास्‍थल से लोगों को बचने का पूरा प्रयास किया गया। जितने लोगों को निकाला जा सकता था उन्‍हें अस्‍पताल पहुंचाया गया।'

लोकसभा में जनरल रावत और उनके साथ जान गँवानेवालों को श्रद्धांजलि

लोकसभा में जनरल रावत और उनके साथ जान गँवानेवालों को श्रद्धांजलि

रश्रा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश के रक्षा प्रमुख, उनकी पत्नी और उनके साथ जान गंवानेवाले सेना के अधिकारियों को लोकसभा में श्रद्धांजलि दी। राजनाथ सिंह इस हेलीकॉप्टर हादसे के बारे में भी सदन को बताया कि जिस हेलीकॉप्टर में सीडीएस रावत और अन्य तेरह लोग सवार थे, उसे सवा बारह बजे वेलिंगटन लैंड करना था। हेलीकॉप्टर सुलुर एयरबेस से सुबह 11.48 पर उड़ा था, उसे 12.15 पर वेलिंगटन पहुंचनाथा लेकिन सुलुर एयरबेस का संपर्क 12.08 मिनट पर ही उस हेलीकॉप्टर से टूट गया, इ सके बाद लोगों ने जंगलों में हेलीकॉप्टर को आग के गोला में तब्दील होते हुए देखा। लोकसभा ने मौन रख कर जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और उनके साथ जान गंवानेवाले सभी लोगों को (द्धांजलि दी।

हेलीकॉप्टर का ब्लैक बॉक्स बरामद

क्रैश हेलीकॉप्टर का ब्लैकबॉक्स बरामद हो गया है। माना जा रहा है कि अब हादसे की गुत्थी खुल सकती है। ब्लैकबॉक्स से कॉकपिट में हुई बातचीत का डेटा मिलता है।

संसद में बयान देंगे रक्षा मंत्री

जानकारी के मुताबिक रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज संसद के दोनों सदनों में इस हेलीकॉप्‍टर दुर्घटना को लेकर विस्तृत बयान देंगे। बताया जा रहा है कि राजनाथ सिंह सुबह 11:15 बजे लोकसभा में और दोपहर 12 के बाद राज्य सभा में बयान देंगे।

शुक्रवार को अंतिम संस्कार

रिपोर्ट्स के मुताबिक बिपिन रावत और उनकी पत्नी का पार्थिव शरीर आज दोपहर बाद तक एक विशेष सैन्य विमान से दिल्ली छावनी लाया जाएगा। शुक्रवार को यहां उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। 

एक असाधारण सैनिक और सच्चे देशभक्त थे जनरल विपिन रावत: प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री ने जताया शोक

एक असाधारण सैनिक और सच्चे देशभक्त थे जनरल विपिन रावत: प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री ने जताया शोक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर जनरल रावत के निधन पर शोक जताया है। प्रधानमंत्री ने लिखा है कि "वे एक असाधारण सैन्य क्षमता वाले व्यक्ति थे। देश की सेना के आधुनिकीकरण में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही। रणनीतिक और सामरिक मामलों में भी उनकी समझ बेहद सुलझी हुई और असाधारण थी। उनके निधन से मुझे गहरा दुख पहुंचा है। ओम शांति"

 

नहीं रहे जनरल विपिन रावत: IAF

इंडियन एयरफोर्स ने बयान जारी कर बताया है कि जनरल विपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 13 लोगों की मौत हो गई है। वहीं कैप्टन वरुण सिंह जो इस हादसे के एकलौते जीवित अफसर हैं उनका इलाज चल रहा है। 

CDS की पत्नी का निधन

हेलीकॉप्टर दुर्घटना के सीडीएस रावत की पत्नी मधुलिका रावत की भी मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि अबतक 13 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, इस संबंध में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं मिली है। सीडीएस रावत के लिए देशभर में दुआएं की जा रही है।

आग का गोला बन गया था चॉपर: चश्मदीद

इस हादसे के एक चश्मदीद ने स्थानीय मीडिया को बताया कि उसे पहले बहुत तेज आवाज सुनाई दी। उसने देखा कि हेलिकॉप्टर पेड़ों पर गिरा। इसके बाद उसमें आग लग गई। हेलीकॉप्टर आग का गोला बन गया था। एक अन्य चश्मदीद का कहना है कि उसने जलते हुए लोगों को गिरते देखा।

कल बयान देंगे राजनाथ सिंह

तमिलनाडु में हुए हेलिकॉप्टर हादसे पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को संसद में बयान देंगे। पहले बताया गया था कि राजनाथ सिंह संसद में बुधवार को ही बयान दे सकते हैं। लेकिन अब मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, केंद्र सरकार की ओर से सिंह गुरुवार को संसद में सीडीएस बिपिन रावत और हेलिकॉप्टर हादसे को लेकर बयान जारी करेंगे।

वायु सेना प्रमुख सुलूर के लिए निकले

रिपोर्ट्स के मुताबिक वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी सुलूर के लिए निकल चुके हैं। वे थोड़ी ही देर में सुलूर एयरबेस पहुंच रहे हैं।

CDS विपिन रावत के परिजनों से मिले रक्षा मंत्री

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने सीडीएस विपिन रावत के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि परिजनों को उन्होंने वस्तुस्थिति बता दिया है। थोड़ी ही देर में वे संसद को संबोधित करेंगे।

आपात बैठक जारी

रिपोर्ट्स के मुताबिक इस हादसे को लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आपात बैठक कर रहे हैं। सिंह ने हादसे की जानकारी प्रधानमंत्री मोदी को दे दी है। थोड़े देर में बैठक खत्म होते ही राजनाथ सिंह संसद में इस घटना से संबंधित पूरी जानकारी साझा करेंगे।

थोड़ी देर में घटनास्थल पर पहुंचेंगे सीएम स्टालिन

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन सबसे थोड़ी देर में घटनास्थल पर पहुंचेंगे। घायलों को उच्चतम स्तर के इलाज के निर्देश तमिलनाडु सरकार की तरफ से दिए गए। उनका इलाज वेलिंगटन आर्मी अस्पताल तमिलनाडु में चल रहा है।

जंगल के इलाके में हुआ हादसा

नीलगिरी की पहाड़ियों में जहां यह हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ है वह एक जंगल का इलाका है, जिसके चलते मलबे तक पहुंचना कठिन हो रहा है. विजुअल्स में पहाड़ पर बिखरे हुए मलबे और घने धुएं व आग के बीच बचाव कार्य में जुटे दल को देखा जा सकता है।

14 में 11 लोगों के मौत की खबर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस हादसे में हेलीकॉप्टर सवार कुल 14 में से 11 लोगों की मौत हो गई है। हालांकि, सेना और रक्षा मंत्रालय से इस संबंध में कोई पुष्ट जानकारी सामने नहीं आई है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह थोड़े देर में संसद में इस हादसे से संबंधित जानकारी देंगे। 

वायु सेना ने दिया जांच का आदेश

भारतीय वायु सेना ने इस घटना की जानकारी देते हुए कहा है कि, 'वायुसेना के Mi-17V5 हेलीकॉप्‍टर,जिसमें सीडीएस जनरल बिपिन रावत सवार थे आज कूनूर (तमिलनाडु) के निकट दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया। दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए जांच का आदेश दिया गया है।'

कुल 14 लोग थे सवार

रिपोर्ट्स के मुताबिक हेलिकॉप्टर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी, रक्षा सहायक, सुरक्षा कमांडो और वायुसेना के पायलट समेत कुल 14 लोग सवार थे।