Punjab Results 2021 Live: पंजाब में जीत के बाद बोली कांग्रेस, यह काले कानून के खिलाफ जनादेश है

पंजाब के स्थानीय निकाय चुनाव के नतीजों में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन किया है, जबकि किसानों की नाराज़गी का सामना कर रही बीजेपी का बुरा हाल है, 8 में से 7 नगर निगम में कांग्रेस ने जीत दर्ज की है

Updated: Feb 17, 2021 08:18 PM IST

कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन के बीच पंजाब में हुए स्थानीय निकाय चुनाव के लिए आज आ रहे नतीजों में कांग्रेस ने बाज़ी मार ली है। बीजेपी को इन चुनावों में बुरी तरह मुंह की खानी पड़ी है, जबकि शिरोमणि अकाली दल का प्रदर्शन भी निराशाजनक रहा है। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले इन चुनावों को काफी अहम माना जा रहा है। पंजाब में रविवार 14 फरवरी को 117 स्थानीय निकायों के लिए मतदान हुआ था, जिनमें 8 नगर निगम और 109 नगरपालिका परिषदें और नगर पंचायतें शामिल हैं।

Live Updates

कांग्रेस ने कहा, पंजाब का जनादेश तानाशाही सल्तनत को चेतावनी

पंजाब के निकाय चुनावों में ज़बरदस्त जीत हासिल करने के बाद कांग्रेस के हौसले बुलंदी पर हैं। पार्टी ने कहा है कि "पंजाब का जनादेश तानाशाही सल्तनत को चेतावनी है कि देश के अन्नदाताओं पर हो रहा अत्याचार बर्दाश्त से बाहर है। यह जनादेश काले बिलों के खिलाफ जनमत है।"

 

 

सुरजेवाला बोले, पंजाब का श्राप, भाजपा ड्रॉप

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पंजाब के निकाय चुनावों में पार्टी की शानदार जीत पर खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि पंजाब के मतदाता ने बीजेपी को करारा जवाब दिया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है,  "पंजाब के खेतों में उगी आक्रोश की फसल ने मोदी और भाजपा द्वारा निर्ममता, निर्दयता, कटुवाक्यों और भ्रम की गगनचुम्बी चोटी पर बैठे होने के मतिभ्रम को करारा जवाब दिया है.. पंजाब का श्राप... भाजपा ड्राप..!"

 

 

नगर निगम चुनाव में कांग्रेस का तूफान, 8 में से 7 नगर निगमों पर किया क़ब्ज़ा

पंजाब के जिन आठ नगर निगमों पर रविवार को चुनाव हुए थे, उनमें से सात में कांग्रेस का झंडा लहरा चुका है। इनमें अबोहर, बठिंडा, कपूरथला, होशियारपुर, पठानकोट, मोगा और बाटला शामिल हैं।

 

 

बठिंडा में 53 साल बाद बनेगा कांग्रेस का मेयर

बठिंडा में 53 साल बाद बनेगा कांग्रेस का मेयर

Photo Courtesy: Twitter/Manpreet Singh Badal

इस बार स्थानीय निकाय चुनावों में कांग्रेस का दबदबा किस कदर नज़र आया है, इसका अंदाजा बठिंडा नगर निगम चुनाव के नतीजों से लगाया जा सकता है। यहां पूरे तिरपन साल बाद कांग्रेस पार्टी का मेयर बनेगा। यहां की 50 में से 43 सीटों पर कांग्रेस की जीत हुई है, जबकि शिरोमणि अकाली दल को सिर्फ सात सीटों से संतोष करना पड़ा है। पंजाब सरकार के मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने इस जीत पर पार्टी कार्यकर्ताओं और शहर की जनता को बधाई दी है। 

 

 

 

बानूर, दोराहा में भी कांग्रेस की बल्ले-बल्ले

बानूर में कांग्रेस को 12 सीटें मिलीं, जबकि शिरोमणि अकाली दल सिर्फ एक सीट ही जीत पाया। दोराहा में कांग्रेस को 9 सीटों पर जीत मिली। जबकि अकाली दल और आम आदमी पार्टी को एक-एक सीट ही मिल पाई।

पायल में भी कांग्रेस की जीत, अकाली को झटका

पायल में कांग्रेस को 9 सीटों पर जीत हासिल हुई, जबकि शिरोमणि अकाली दल को सिर्फ एक सीट पर ही सफलता मिल पाई।

खन्ना, जगरोन में कांग्रेस का बजा डंका

खन्ना में कांग्रेस ने 19 सीटों पर जीत दर्ज की, जबकि 6 सीटें अकाली दल को मिलीं। जगरोन में भी कांग्रेस को 17 सीटें मिलीं। यहां निर्दलीय उम्मीदवारों को 5 सीटें मिलीं, जबकि एक सीट पर अकाली दल को सफलता हासिल हुई।

पंजाब में ज़बरदस्त जीत पर दीपेंदर हुड्डा ने दी बधाई

पंजाब निकाय चुनाव में ज़बरदस्त जीत पर कांग्रेस सांसद दीपेंदर सिंह हुड्डा ने पंजाब कांग्रेस के नेताओं और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को बधाई दी है। उन्होंने ट्विटर पर बधाई देते हुए लिखा है, "पंजाब नगर निगम चुनाव में असाधारण जीत के लिए@INCPunjab, मुख्यमंत्री श्री @capt_amarinder जी समेत प्रदेश कांग्रेस कमिटी के सभी सदस्यों को ढेरों शुभकामनाएँ। ये नतीजे ‘बदलते वक्त’ के सूचक हैं, ये किसान-मज़दूर-व्यापारी-कर्मचारी-नौजवान की ‘मन की बात’ है।"

 

 

6 नगर निगमों में कांग्रेस की जीत

पंजाब निकाय चुनाव में कुल आठ नगर निगमों के नतीजे आज आने हैं। इनमें से 6 म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन में कांग्रेस ने जीत हासिल कर ली है। ये छह नगर निगम हैं - अबोहर, बठिंडा, कपूरथला, होशियारपुर, मोंगा और बटाला।

बठिंडा में कांग्रेस को 14, शिरोमणि अकाली दल को 7 सीटें

बठिंडा नगर निगम में कांग्रेस ने 14 वार्डों में जीत हासिल की है, जबकि शिरोमणि अकाली दल को 7 सीटें मिली हैं।

फाजिल्का में भी कांग्रेस का दबदबा

फाजिल्का में कांग्रेस ने 19 सीटें जीती हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी को सिर्फ 4 वार्ड में जीत मिली है। आम आदमी पार्टी को सिर्फ दो ही सीटें मिली हैं।

फरीदकोट में कांग्रेस की शानदार जीत

फरीदकोट नगर निगम में कांग्रेस की शानदार जीत हुई है। यहां कांग्रेस ने 25 में से 16 वार्ड में जीत हासिल की है। शिरोमणि अकाली दल को 7 वार्ड में जीत मिली है। आम आदमी पार्टी और निर्दलीय को एक-एक सीट मिली है।

होशियारपुर में कांग्रेस की बड़ी जीत

होशियारपुर नगर निगम चुनाव में कांग्रेस की बड़ी जीत हुई है। होशियारपुर के 50 में से 31 वार्ड में कांग्रेस की जीत हुई है। शिरोमणि अकाली दल और बसपा को यहां एक भी सीट हाथ नहीं लगी है। बीजेपी को यहां चार और आम आदमी पार्टी को दो सीटों पर जीत हासिल हुई है।

बढ़नी कलां नगर पंचायत में कांग्रेस का परचम लहराया

मोगा के बढ़नी कलां नगर पंचायत चुनाव में भी कांग्रेस ने बाजी मार ली है। यहां कांग्रेस ने 9 सीटें जीती हैं, जबकि शिरोमणि अकाली दल को सिर्फ एक और आम आदमी पार्टी को 3 सीटें मिली हैं।

भवानीगढ़ नगर निगम की 15 में से 13 सीटों पर कांग्रेस का क़ब्ज़ा

भवानीगढ़ नगर निगम में कांग्रेस ने 15 में से 13 सीटें जीतकर कांग्रेस ने बाजी मार ली है। शिरोमणि अकाली दल और निर्दलीय को एक-एक सीट मिली है, जबकि बीजेपी और आम आदमी पार्टी का खाता भी नहीं खुल सका है।

मोगा में कांग्रेस सबसे आगे, अकाली दल दूसरे नंबर पर

मोगा की 50 में से 20 पर कांग्रेस की जीत हुई है, जबकि शिरोमणि अकाली दल 15 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर है। 10 वार्ड्स पर निर्दलीयों का कब्जा है। आम आदमी पार्टी के खाते में चार और भाजपा के खाते में एक सीट गई है। 

अबोहर में कांग्रेस की आंधी, 50 में 49 सीटें जीतीं

अबोहर की 50 सीटों में से 49 पर कांग्रेस की जीत हुई है, जबकि शिरोमणि अकाली दल को एक सीट मिली है। बीजेपी का यहां खाता भी नहीं खुल पाया है।