कमलनाथ की शिकायत लेकर चुनाव आयोग पहुंची बीजेपी कहा, पाबंदी के बावजूद स्टार की तरह प्रचार कर रहे हैं पूर्व मुख्यमंत्री

BJP files complaint again to EC: बीजेपी ने कमल नाथ के अलावा जीतू पटवारी और उमंग सिंघार के खिलाफ भी निर्वाचन आयोग से शिकायत की है

Updated: Nov 01, 2020, 12:24 PM IST

कमलनाथ की शिकायत लेकर चुनाव आयोग पहुंची बीजेपी कहा, पाबंदी के बावजूद स्टार की तरह प्रचार कर रहे हैं पूर्व मुख्यमंत्री
Photo Courtesy : Indian Express

भोपाल। बीजेपी का आरोप है कि स्टार प्रचारक के पद से हटाए जाने के बावजूद कमलनाथ स्टार प्रचारक बन कांग्रेस का प्रचार कर रहे हैं। इसके खिलाफ बीजेपी ने फिर से राज्य चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज करायी है। चुनाव आयोग ने कमलनाथ को अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल करने के आरोप में स्टार प्रचारक से हटा दिया था, जिसके खिलाफ कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है।

और पढ़ें: Kamal Nath: स्टार प्रचारक जैसा कोई पद ही नहीं है, चुनाव आयोग की कार्रवाई पर बोले कमलनाथ

शनिवार शाम बीजेपी के चुनाव प्रबंध समिति के सह संयोजक बीडी सबनानी ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से कमलनाथ के खिलाफ शिकायत की। सबनानी ने मीडिया को दिए अपने एक बयान में बताया कि कमलनाथ स्टार प्रचारक के पद से हटा तो दिए गए हैं, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने आज हाटपिपल्या और आगर में चुनाव प्रचार किया। सबनानी ने कहा कि कमलनाथ स्टार प्रचारक के ही तमाम प्रोटोकॉल के साथ चुनाव प्रचार कर रहे हैं। आश्चर्य की बात है कि दोनों ही जगह के जिलाधिकारियों ने कमलनाथ को प्रचार करने से नहीं रोका। 

और पढ़ें: Kamal Nath: चुनाव आयोग ने कमलनाथ से छीना स्टार प्रचारक का दर्जा, फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी पार्टी

कमलनाथ के अलावा बीजेपी ने कांग्रेस प्रवक्ता जीतू पटवारी और उमंग सिंघार के खिलाफ भी चुनाव आयोग से शिकायत की है। बीजेपी का आरोप है कि पूर्व मंत्री और कांग्रेस प्रवक्ता जीतू पटवारी अमर्यादित भाषा का उपयोग कर आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं। सबनानी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता ने चुनाव आयोग को बीजेपी का अनुषांगिक संगठन बता डाला। प्रवक्ता ने खुली चुनौती देते हुए कहा है कि कमल नाथ हर हाल में ग्वालियर प्रचार करने जाएंगे। 

बदनानी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी लगातार झूठ बोलने का काम कर रही है। कभी बोलती है कि विधायकों को 35 करोड़ में ख़रीदा गया है, कभी बोलती है 50 करोड़ में ख़रीदा गया है। आज उस बात की पुष्टि करने और भ्रम फैलाने के लिए एक व्यक्ति को खड़ा कर दिया गया है। बदनानी ने कहा कि उन्होंने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से सभी मामलों को संज्ञान में लेकर उचित कार्रवाई करने की मांग की है।