AAP की शैली ओबेरॉय बनीं दिल्ली की मेयर, आले मोहम्मद बने डिप्टी मेयर

दिल्ली नगर निगम के मेयर और डिप्टी मेयर पद पर फिर से आम आदमी पार्टी की क्रमश: शैली ओबेरॉय और आले मोहम्मद इकबाल काबिज हुए। भाजपा के चुनाव प्रक्रिया से हटने के कारण दोनों निर्विरोध चुने गए।

Updated: Apr 26, 2023, 12:45 PM IST

AAP की शैली ओबेरॉय बनीं दिल्ली की मेयर, आले मोहम्मद बने डिप्टी मेयर

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी की शैली ओबेरॉय को सर्वसम्मति से दिल्ली एमसीडी का मेयर चुन लिया गया है। बीजेपी की मेयर पद की प्रत्याशी शिखा राय ने अपना नाम वापस ले लिया। इस तरह से लंबे अर्से से दिल्ली एमसीडी मेयर चुनाव को लेकर चल रही खींचतान का पटाक्षेप हो गया। बीजेपी ने डिप्टी मेयर पद से भी अपने प्रत्याशी का नाम वापस ले लिया। AAP के ही आले मोहम्मद डिप्टी मेयर निर्वाचित हुए।

बता दें कि एमसीडी हाउस में आप के पास पूर्ण बहुमत था। बावजूद मेयर पद के इलेक्शन में आप की मौजूदा मेयर शैली ओबेरॉय के खिलाफ भाजपा ने शिखा राय को मैदान में उतारा था। वहीं आप के निवर्तमान डिप्टी मेयर आले मोहम्मद इकबाल के विरुद्ध भाजपा ने सोनी पांडेय को प्रत्याशी बनाया था। मगर बीजेपी को आखिर में कैंडीडेट के नाम वापस लेने पड़े। पार्टी ने बताया कि ऐसा इसलिए किया किया गया, क्योंकि हमारे सभी प्रयासों के बावजूद आम आदमी पार्टी स्थाई समिति एवं वार्ड समितियों का गठन नहीं होने दे रही है, जिस कारण नगर निगम में कोई कार्य नहीं हो पा रहा था।

दिल्ली के मेयर, डिप्टी मेयर और स्थायी समिति के सदस्यों के चुनावों की प्रक्रिया तीन महीने पहले भी हुई थी। MCD के सिविक सेंटर में वोटिंग शुरू होते ही हेडक्वार्टर में भारी हंगामा शुरु हो गया था। AAP-BJP मेंबर्स ने जमकर नारेबाजी की थी। माहौल इतना बिगड़ गया था कि कुछ पार्षद बैरिकेड्स पर चढ़ गए थे और उन्होंने एक दूसरे पर बोतलें फेंकना शुरु कर दिया था।

राष्ट्रीय राजधानी में महापौर पद के लिए बारी-बारी से एक-एक साल के पांच कार्यकाल के लिए चुनाव होता है। पहले वर्ष में मेयर का पद महिलाओं, जबकि तीसरे वर्ष में आरक्षित श्रेणी के लिये होता है। अन्य तीन वर्षों (दूसरे, चौथे और पांचवें) में यह पद अनारक्षित श्रेणी के लिये होता है। शैली ओबेरॉय 22 फरवरी को दिल्ली की महापौर चुनी गयी थीं। उन्होंने भाजपा की रेखा गुप्ता को 34 मतों के अंतर से हराया था। शैली को 150 वोट मिले थे, जबकि रेखा को कुल 266 वोट में से 116 वोट मिले थे। फाइनेंशियल ईयर की समाप्ति के बाद शहर को नया मेयर मिलता है। शैली ओबेरॉय इस पद का कार्यभार फिर से संभालने जा रही हैं।