US को मिली बड़ी सफलता, लादेन के बाद अब आतंक के आका अल जवाहिरी को भी मार गिराया

आतंकी संगठन अलकायदा के संस्थापक ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद से अल जवाहिरी इस संगठन का मुखिया बना था, राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सोमवार को कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका ने काबुल में हवाई हमले में अल-कायदा के नेता अयमान अल-जवाहिरी को मार गिराया है

Updated: Aug 02, 2022, 09:24 AM IST

US को मिली बड़ी सफलता, लादेन के बाद अब आतंक के आका अल जवाहिरी को भी मार गिराया

वॉशिंगटन। आतंकवाद के खिलाफ युद्ध में अमेरिका को एक और बड़ी सफलता मिली है। अमेरिका ने अल कायदा के प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी को मार गिराया है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने पूरी दुनिया को इस बात की जानकारी दी। साल 2011 में ओसामा बिन लादेन के खात्मे के बाद आतंकवाद के खिलाफ इसे सबसे बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है।

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सोमवार को कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका ने काबुल में हवाई हमले में अल-कायदा के नेता अयमान अल-जवाहिरी को मार गिराया है। बता दें कि पिछले 21 साल से अमेरिका को अल-जवाहिरी की तलाश थी। अधिकारियों के मुताबिक जवाहिरी को उस वक्त निशाना बनाया गया जब वो घर की बालकनी में बैठा था। तभी ड्रोन के जरिए दो मिसाइल उस पर दागे गए।

यह भी पढ़ें: पेंसिल मांगने पर मां मारती है, मोदी जी आपने मैगी भी महंगी कर दी, 6 साल की बच्ची ने लिखा PM को पत्र

माना जाता है कि 11 सितंबर 2001 में अमेरिका में हुए हमले के पीछे असली दिमाग जवाहिरी का ही था। इस हमले में करीब तीन हजार लोग मारे गए थे। इस खतरनाक हमले के लिए चार विमानों को हाईजैक किया गया था। इनमें से 2 विमान वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के दोनों टावर्स से टकरा गए थे। इस हमले के बाद ही अमेरिका ने आतंकवाद के खिलाफ अभियान छेड़ा था। अमेरिकी सेना ने साल 2011 में पाकिस्तान में घुसकर अलकायदा के तत्कालीन चीफ ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था। तब से अलकायदा का मुखिया अल जवाहिरी ही था।

अल-कायदा प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी, मिस्र का एक सर्जन था, जो बाद में दुनिया के सबसे वांछित आतंकवादियों में से एक बन गया। उस पर अमेरिका ने 25 मिलियन डॉलर का इनाम रखा था। उसने दुनिया के कई हिस्सों में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में मास्टरमाइंड की भूमिका निमाई थी।