MP By Election: कोरोना गाइडलाइन तोड़ने के आरोप में नरेंद्र तोमर, कमलनाथ समेत 8 नेताओं पर FIR

Corona Guideline Violation: कोरोना नियमों की अनदेखी की शिकायत पर हाईकोर्ट सख्त

Updated: Oct 15, 2020, 09:39 AM IST

MP By Election: कोरोना गाइडलाइन तोड़ने के आरोप में नरेंद्र तोमर, कमलनाथ समेत 8 नेताओं पर FIR
Photo Courtesy: Op India

ग्वालियर। चुनाव प्रचार के दौरान गाइडलाइन्स की अनदेखी के मसले पर मध्य प्रदेश हाइकोर्ट की ग्वालियर बेंच ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत 8 नेताओं के खिलाफ एफआईआर करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के रोड शो करने के आरोप में उनके विरुद्ध भी पुलिस ने शिकायत दर्ज की है।

वकील आशीष प्रताप सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ ने जिन बड़े नेताओं के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश दिया है, उनमें केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, विधायक मुन्नालाल गोयल, मंत्री प्रद्युम्मन सिंह तोमर, सतीश सिंह सिकरवार, सुनील शर्मा, रामनिवास रावत, कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया शामिल हैं। याचिकाकर्ता वकील ने इन सभी नेताओं पर राजनीतिक कार्यक्रमों में कोरोना गाइड लाइन्स के उल्लंघन का आरोप लगाया है।

ब्यावरा के कांग्रेस उम्मीदवार रामचंद्र दांगी और बीजेपी प्रत्याशी नारायण सिंह पंवार के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कर ली गई है। दोनों नेताओं पर नामांकन के दौरान भीड़ जमा करने का आरोप है, दोनों के नामांकन के दौरान सड़क पर जुलूस की शक्ल में लोग जमा हो गए और लाउड स्पीकर का उपयोग किया गया था। जिसके बाद चुनाव आय़ोग ने सख्ती दिखाते हुए दोनों नेताओं पर एफआईआर दर्ज कर ली है।

और पढ़ें : Mp by elections: सांवेर में सीएम की सभा पर हाईकोर्ट सख्त, केंद्रीय निर्वाचन आयोग समेत 8 को नोटिस

हाईकोर्ट की इंदौर खंडपीठ ने सांवेर में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के दौरान बड़ी संख्या में बसों का अधिगृहण करने के खिलाफ भारत निर्वाचन आयोग, मध्य प्रदेश निर्वाचन आयोग, मुख्य सचिव मध्य प्रदेश शासन, प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन विभाग, कलेक्टर जिला इंदौर, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी समेत कई अफसरों को भी नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा है।

और पढ़ें : Kamal Nath: शिवराज के भगवान जनता नहीं, माफ़िया और मिलावटखोर हैं

दतिया के कलेक्टर संजय कुमार को हटाकर उनकी जगह पी विजय दत्ता को दतिया का नया कलेक्टर नियुक्त किया गया है। आपको बता दें कि विजय दत्ता भोपाल नगर निगम आयुक्त की जिम्मेदारी निभा चुके हैं। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में 3 नवंबर को मतदान होगा और 10 नवंबर को वोटों की गिनती होगी।