अब बिजली के झटके की बारी, 100 यूनिट से ज्यादा खर्च करने वालों का 35 फीसदी बढ़ेगा बिल

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के बाद अब बिजली बिल से लगेगा करंट, 100 से 150 यूनिट खपत वाले 30 लाख मध्यम वर्ग के उपभोक्ताओं को झटका

Updated: Feb 20, 2021, 05:23 PM IST

अब बिजली के झटके की बारी, 100 यूनिट से ज्यादा खर्च करने वालों का 35 फीसदी बढ़ेगा बिल
Photo Courtesy : Amar Ujala

भोपाल। पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के आसमान छूते दामों के बाद अब है बिजली के झटके की बारी। मध्य प्रदेश की बीजेपी सरकार अब बिजली की दरें बढ़ाने की तैयारी कर रही है। बिजली विभाग ने दरों में जिस ढंग से बढ़ोतरी की तैयारी की है उसका सबसे ज्यादा असर मध्यम वर्ग के परिवारों पर पड़ेगा। खास तौर पर जिन परिवारों में हर महीने 100 यूनिट से ज्यादा बिजली खर्च होती है, उन्हें सबसे ज्यादा झटका लगेगा। इस श्रेणी के उपभोक्ताओं के लिए बिजली की दरें करीब 35 फीसदी से ज्यादा बढ़ाने की तैयारी हो रही है। प्रदेश के करीब 30 लाख से ज्यादा बिजली उपभोक्ता हैं जो इस बढ़ोतरी की जद में आ रहे हैं। 

कैसे होगी बढ़ोतरी

वर्तमान में घरेलू उपभोक्ता को खपत के हिसाब से चार श्रेणी में बांटा है। इसमें 50 यूनिट के खपत पर अलग दाम, 51 से 150 यूनिट, 151 से 300 और 300 से ऊपर की खपत वाले उपभोक्ता शामिल है। लेकिन नए प्रस्ताव के मुताबिक़ मध्यप्रदेश पॉवर मैनेजमेंट कंपनी ने स्लैब में परिवर्तन किया है। इसमें 50 यूनिट के बाद 51 से 150 की यूनिट को बदलकर सिर्फ 100 यूनिट तक रखा है। वहीं इसके ऊपर 101 से 300 यूनिट तक की खपत करने वाले उपभोक्ताओं को एक ही श्रेणी में रखा जा रहा है।

किसका कितना बढ़ेगा बिजली बिल

अबतक जिन उपभोक्ताओं का बिजली बिल 50 यूनिट आता था, उन्हें 267.50 रुपए देने पड़ते थे। नई दरों के हिसाब से उन्हें 289 रुपए चुकाने होंगे। यानी पहले से 8.04 फीसदी ज्यादा बिल देना होगा। 100 यूनिट बिजली खर्च करने वालों को फिलहाल 561 रुपए देने होते हैं। दाम बढ़ने के बाद उन्हें 608 रुपए देने होंगे, यानि अभी के मुकाबले 8.38 फीसदी ज्यादा। लेकिन जिनका बिजली खर्च 150 यूनिट तक है, उन पर सबसे बुरी मार पड़ने वलाी है। उनका बिजली बिल 813.50 रुपए से बढ़कर 1097 रुपये हो जाएगा। यानि उनका बिजली खर्च लगभग 35 फीसदी बढ़ जाएगा।

इसी तरह 200 यूनिट तक खपत करने वालों को अबतक 1356 रुपए देने होते थे, लेकिन अब उन्हें 1546 रुपए देने होंगे। यह बढ़ोतरी करीब 14 फीसदी की है। 300 यूनिट बिजली की खपत पर अभी 2139 रुपये देने पड़ते हैं। नई दरों में यह खर्च करीब 12 फीसदी बढ़कर 2394 रुपये हो जाएगा। 400 यूनिट बिजली का जो बिल अभी 3019 रुपये आता है, वो नई दर लागू होने पर 10.23 फीसदी बढ़कर 3328 रुपए हो जाएगा। इन आंकड़ों से साफ है कि सबसे ज्यादा बोझ सौ से डेढ़ यूनिट तक बिजली खर्च करने वालों पर डाला जा रहा है।