ऋषियों की तरह बनना चाहते हैं तो यहां संपर्क करें, विज्ञापन जारी कर ट्रोल हुए रामदेव

रामदेव ने की ब्रह्मचारी बनने की अपील, लोगों ने दी अजब-गजब प्रतिक्रिया, बोले- इस प्रक्रिया से हिंदुओं की जनसंख्या कम हो जाएगी

Updated: Jun 19, 2021, 10:15 AM IST

ऋषियों की तरह बनना चाहते हैं तो यहां संपर्क करें, विज्ञापन जारी कर ट्रोल हुए रामदेव
Photo Courtesy: India Today

नई दिल्ली। बड़बोलेपन की वजह से अक्सर विवादों में रहने वाले पतंजलि के संस्थापक रामदेव एक बार फिर चर्चा में हैं। इस बार उन्होंने लोगों से एलोपैथी छोड़ने के लिए नहीं बल्कि गृहस्थ जीवन त्यागने की अपील की है। रामदेव ने विज्ञापन जारी कर कहा है कि यदि आप ऋषियों की तरह बनना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें। अब लोगों ने रामदेव से पूछना शुरू कर दिया है कि क्या ब्रह्मचर्य अपनाने से हिंदुओं की आबादी कम नहीं होगी?

रामदेव ने ट्विटर पर वैदिक गुरुकुलम और वैदिक कन्या गुरुकुलम का विज्ञापन पोस्ट किया है। इस विज्ञापन में ब्रह्मचर्य अपनाने पर जोर दिया गया है। रामदेव ने इसके साथ लिखा कि, 'जो युवक युवतियां आजीवन ब्रह्मचारी रहकर अपना पूरा जीवन देश, धर्म व संस्कृति एवं मानवता की सेवा तथा भगवान के लिए अर्पित करना चाहते हैं। यहां संपर्क करें।' इसके साथ ही रामदेव ने महिला और पुरुष के लिए अलग-अलग नंबर जारी किया है।

रामदेव के इस ट्वीट पर यूजर्स अजीबोगरीब कमेंट कर रहे हैं। अधिकांश लोग बाबा से यह पूछ रहे हैं कि ब्रह्मचर्य धारण करने के कारण हिंदुओं की जनसंख्या कम नहीं होगी? ट्विटर यूजर सुनीता ने रामदेव के पोस्ट पर कमेंट किया, 'स्वामी जी! इस प्रक्रिया से हमारे सनातनी धर्म के हिंदुओं की जनसंख्या में कमी तो नहीं आएगी?' 

यह भी पढ़ें: बकस्वाहा में पेड़ काटने की अनुमति कैसे दी गई, केंद्र व राज्य सरकार को हाईकोर्ट का नोटिस

एक अन्य ट्विटर यूजर ने तंज कसते हुए कहा कि उससे पेट्रोल सस्ता हो जाएगा क्या? विजय कुमार नाम के एक व्यक्ति ने कहा की, 'बाबा जी रेवड़ी की तरह से ब्रह्मचारी मत बनाइए उसकी पहले परीक्षा लीजिए कि वह इस योग्य है या नहीं उसके अंदर ब्रह्मचर्य धारण करने की परफेक्ट मनः स्थिति है या नहीं। तब पूर्ण रूप से सिद्ध होने पर ही ब्रह्मचर्य धारण करवाईए नहीं तो यह सब स्वयं बिगडेंगे व किसी का घर बिगाडेंगे।'