दिग्विजय सिंह होंगे मल्लिकार्जुन खड़गे के प्रस्तावक, अब थरूर और खड़गे के बीच होगा मुकाबला

कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर सस्पेंस खत्म, दिग्विजय सिंह नहीं लड़ेंगे चुनाव, मल्लिकार्जुन खड़गे को समर्थन करने का ऐलान

Updated: Sep 30, 2022, 12:43 PM IST

दिग्विजय सिंह होंगे मल्लिकार्जुन खड़गे के प्रस्तावक, अब थरूर और खड़गे के बीच होगा मुकाबला

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव को लेकर बना सस्पेंस नामांकन के आखिरी दिन अब खत्म होता दिख रहा है। दो दिनों से अध्यक्ष पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे दिग्विजय सिंह ने अब अपना नाम वापस ले लिया है। शुक्रवार को नामांकन के आखिरी दिन उन्होंने इसका ऐलान किया। दिग्विजय सिंह ने मल्लिकार्जुन खड़गे के समर्थन में बैठने की बात कही है। ऐसे में अब अध्यक्ष पद का मुकाबला शशि थरूर और मल्लिकार्जुन खड़गे के बीच माना जा रहा है।

दिग्विजय सिंह ने मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान कहा, 'मैंने मल्लिकार्जुन खड़गे से मुलाकात की और कहा कि यदि आप फॉर्म भर रहे हैं तो मैं आपके साथ हूं। मैंने साफ कहा कि आपके खिलाफ लड़ने की मैं सोच भी नहीं सकता हूं। इसलिए मैंने अब तय किया है कि उनका प्रस्तावक बनूंगा।'

सिंह ने कहा कि, 'मैं तीन बातों पर समझौता कभी नहीं करूंगा। पहला गरीब, दलित और आदिवासी के हित। दूसरा सांप्रदायिकता के खिलाफ संघर्ष। तीसरा यह कि मैं गांधी-नेहरू परिवार के प्रति वफादार हूं।' दिग्विजय सिंह के समर्थन के बाद अब माना जा रहा है कि अध्यक्ष पद की रेस में मल्लिकार्जुन खड़गे सबसे आगे हैं।

बता दें कि दिग्विजय सिंह के नामांकन को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस के तीन दर्जन से अधिक पीसीसी डेलीगेट और विधायक दिल्ली पहुंचे हुए थे। सिंह ने उन्हें संबोधित करते हुए कहा कि, 'मल्लिकार्जुन खड़गे जी नामांकन करने जा रहे है। वो हम सबसे वरिष्ठ है,मैं पार्टी का ईमानदार कार्यकर्ता हूँ उनके समर्थन में मैं नामांकन नही करूँगा।' सभी डेलीगेट ने एक सुर में उनके निर्णय पर सहमति जताई।