Farmers Loan Waiver: किसानों ने कहा, कमलनाथ सरकार ने किया हमारा कर्ज माफ, कांग्रेस ने पेश किया सबूत

Kunal Choudhary: विधायक कुणाल चौधरी के साथ आए कालापीपल क्षेत्र के 50 से अधिक किसानों ने दिखाई खाता बही, किसानों ने कहा बैंक पासबुक में कर्ज माफी की एंट्री दर्ज

Updated: Sep-27, 2020, 08:51 PM IST

Farmers Loan Waiver: किसानों ने कहा, कमलनाथ सरकार ने किया हमारा कर्ज माफ, कांग्रेस ने पेश किया सबूत

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकार बनने के दो घंटे के भीतर ही कर्ज माफी का फैसला कर किसानों के आंसू पोंछे मगर अब तक भारतीय जनता पार्टी कर्जमाफी को लेकर सिर्फ झूठ बोलते हुए, दुष्प्रचार करती रही है। अब शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के सीएम है लेकिन अभी भी वह और उनके नेता अलग-अलग मंच से कर्जमाफी को लेकर झूठ बोल रहे हैं। जबकि विधानसभा में सरकार स्वयं स्वीकार कर चुकी है कि कमलनाथ सरकार ने 26लाख 95 हजार किसानों का कर्जा माफ किया है।

यह बयान मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष और कालापीपल से कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने रविवार को एक प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधित करते हुए दिया। उन्होंने बताया कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने 26 लाख 95 हज़ार किसानों का क़र्ज़ माफ़ किया है। वहीं सबूत के तौर पर उन्होंने कालापीपल क्षेत्र के ऐसे कई किसानों को भी प्रस्तुत किया जिनके बैंक खातों में कमलनाथ सरकार ने कर्जमाफी के रूपये ट्रांसफर किए गए है। पत्रकार वार्ता में कालापीपल क्षेत्र के 50 से अधिक किसान अपनी पासबुक खाता बही और प्रमाण पत्र लेकर आए और उन्होंने अपनी बैंक पासबुक में 1 लाख 92000 तक के कर्ज माफी की एंट्री दिखाई ।

 

 

विधायक कुणाल चौधरी ने कहा कि विधानसभा में खुद किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल सदन में बताया कि कांग्रेस की कमलनाथ जी की सरकार ने प्रथम चरण में 20 लाख 23 हज़ार 136 किसानों का 7 हज़ार 108 करोड़ का कर्ज माफ किया। दूसरे चरण में 6 लाख 72 हज़ार 245 किसानों का 4 हज़ार 538 करोड़ माफ करने की स्वीकृति दी गई एवं 5 लाख 90 हज़ार 848 किसानों का 7 हज़ार 492 करोड़ स्वीकृति हेतु शेष है।  सरकार ने अधिकृत रूप से कर्जमाफी की बात को स्वीकारा किया है। लेकिन उसके बाद भी सीएम शिवराज सिंह चौहान और मिस्टर जयचंद ज्योतिरादित्य सिंधिया हर मच से बोल रहे है कि किसानों का क़र्ज़ माफ़ नहीं हुआ, इससे भारतीय जनता पार्टी का चाल, चरित्र और चेहरा सामने आता है।

इस दौरान उन्होने बीजेपी पर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाते हुए कहा कि लोकतंत्र की हत्या करके जो सरकार बीजेपी ने बनाई है यह ज्यादा दिन नहीं टिकने वाली है ।आने वाले उपचुनावों में कांग्रेस की सत्ता में वापसी होने जा रही है और फिर से कमलनाथ जी की सरकार बनते ही बाकी किसानों की वचन अनुसार कर्जमाफी होगी।