तीन वर्षीय मासूम बच्चे ने की मां के शव की पहचान, पुलिस को बताया, ये मेरी मम्मी है, इन्हें पापा ने मारा

सतना जिले के रैगवा गांव का मामला, मंदिर के पास पुलिस को मिला अज्ञात महिला का शव, तीन वर्षीय लावारिस बच्चा पुलिस को मंदिर में मिला, पूछने पर बच्चे ने बताया कि शव उसकी मां का है और उसके पिता यानी महिला के पति ने उसकी हत्या की है

Publish: Jul 07, 2021, 11:44 AM IST

तीन वर्षीय मासूम बच्चे ने की मां के शव की पहचान, पुलिस को बताया, ये मेरी मम्मी है, इन्हें पापा ने मारा

सतना। सतना में एक पति ने अपने मासूम बेटे के सामने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। पत्नी की हत्या करने के बाद पति ने शव को झाड़ियों में फेंक दिया। इसके बाद पति अपने बच्चे को वहीं छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने जब लावारिस घूम रहे बच्चे से पूछा तब उसने बताया कि शव उसकी मां का है और उसके पिता ने मां की हत्या की है। 

यह मामला सतना के अमदरा थाना क्षेत्र के रैग्वा गांव का है। गांव के सिंहवाहिनी मंदिर के पास झाड़ियों में एक महिला का शव मिलने से हड़कंप मच गया। महिला के शव की शिनाख्त करने पहुंची पुलिस को मंदिर में एक लावारिस बच्चा मिला। बच्चे से पुलिस ने जब शव के बारे में पूछा तब बच्चे ने बताया कि ये मेरी मम्मी हैं, इन्हें मेरे पापा ने मारा है।

हालांकि शव की शिनाख्त करने के नाम पर पुलिस के पास इससे अधिक जानकारी नहीं है। पुलिस के मुताबिक ऐसा प्रतीत होता है जैसे महिला की गला घोंटकर उसकी हत्या की गई हो। पुलिस को शव के पास से बोलरो और एक कार भी लावारिस अवस्था में मिली है। बोलेरो में महिला के टूटे चप्पल और चूड़ियां मिली थी। बोलेरो कटनी के रहने वाले राकेश ताम्रकर नामक किसी व्यक्ति की है। पुलिस ने बोलेरो के मालिक से पूछताछ की तो उसने बताया कि अखिलेश यादव नाम का कोई व्यक्ति उसका बोलेरो लेकर गया था।

यह भी पढ़ें : पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारमंगलम की पत्नी की हुई हत्या, एक आरोपी पुलिस की गिरफ्त में, दो फरार

लेकिन अखिलेश यादव नाम के व्यक्ति के फोन पर पुलिस ने जब कॉल किया तो उसका फोन स्विच ऑफ आया। इसके बाद पुलिस ने उसके भाई को फोन किया। पुलिस ने उसके भाई को महिला के शव और बच्चे की तस्वीर भी भेजी। लेकिन उसने पहचानने से इनकार कर दिया। अब पुलिस लावारिस कार के मालिक मैहर निवासी अशोक गुप्ता से संपर्क करने की कोशिश कर रही है।