गुना: पुलिस चौकी में मुस्लिम युवक की मौत, पिता ने पुलिस पर लगाया पीट पीटकर मारने का आरोप

पुलिस का दावा है कि युवक को पूछताछ के लिए रोका गया था, इसी दौरान उसकी तबीयत बिगड़ी, उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Updated: Nov 22, 2022, 12:01 PM IST

गुना: पुलिस चौकी में मुस्लिम युवक की मौत, पिता ने पुलिस पर लगाया पीट पीटकर मारने का आरोप

गुना। मध्य प्रदेश के गुना जिले में पुलिस चौकी में एक मुस्लिम युवक की मौत का मामला सामने आया है। यहां एक 28 वर्षीय मुस्लिम युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक के परिजनों ने इसे हत्या करार दिया है। पीड़ित परिवार का आरोप है कि पुलिस ने उसे पीट-पीटकर मार डाला। घटना को लेकर स्थानीय लोगों में आक्रोश है।

मृतक की पहचान गोकुल सिंह चक निवासी इसराइल खान के रूप में हुई है। सोमवार की शाम को मृतक भोपाल इंटर सिटी से गुना रेलवे स्टेशन पर उतरा। वहां से ऑटो में बैठकर अपने घर गोकुल सिंह चक जा रहा था। तभी पुलिस ने उसे ऑटो से उतारा और कुशमोद चौकी ले जाकर कमरे में बंद कर दिया। सूचना मिलने पर उसके परिजन वहां पहुंच गए। 

मृतक के पिता मुनब्बर खान के मुताबिक जब वे मौके पर पहुंचे तो देखा कि पुलिसकर्मी उसे बेरहमी से पीट रहे थे। इसके बाद उन्होंने अपने भाई असलम खान को बुलाया। असलम ने जब पुलिसकर्मियों ने बात की तो उन्होंने कहा कि टीआई साहब का आदेश है, कैंट थाने जाकर उसी से बात करो। असलम खान ने बताया कि जबतक वे कैंट थाने पहुंचे तबतक इसराइल की मौत हो चुकी थी। उसे मेडिकल के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

घटना की खबर मिलते ही स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए। सैंकड़ों की संख्या में लोग जिला अस्पताल के बाहर इकट्ठे हो गए और उन्होंने जमकर हंगामा किया। देर रात करीब एक बजे तक लोग अस्पताल के बाहर जुटे हुए थे। मृतक के परिजन आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने की मांग कर रहे थे। मंगलवार सुबह कलेक्टर फ्रेंक नोबल ए, पुलिस अधीक्षक पंकज श्रीवास्तव, एडीएम आदित्य सिंह, एएसपी विनोद सिंह की समझाइश के बाद परिजन पोस्टमार्टम के लिए तैयार हुए।

उधर पुलिस मारपीट की बात से इनकार कर रही है। पुलिस का दावा है कि युवक को पुलिस ने पूछताछ के लिए रोका था। इस दौरान उसे चक्कर आने लगे। उसकी तबियत बिगड़ते देख तत्काल अस्पताल भेजा गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।