मप्र में 27 आईएएस अधिकारियों के तबादले, उपचुनाव वाले ज़िलों में प्रमुख बदलाव

एमपी सरकार ने बदले होशंगाबाद, अशोक नगर, सागर, अलीराजपुर, धार, राजगढ़, विदिशा, नरसिंहपुर और बालाघाट के कलेक्टर.. ज़िलों मे पदस्थ दस आईएएस अफ़सरों को भोपाल बुलाया गया

Updated: Sep 04, 2021, 11:29 PM IST

मप्र में 27  आईएएस अधिकारियों के तबादले, उपचुनाव वाले ज़िलों में प्रमुख बदलाव

भोपाल/ झाबुआ। एमपी में आज बड़े पैमाने पर आईएएस अफसरों के तबादले की खबर है। कुल 27 IAS अफसरों के तबादले किए गए हैं। जिनमें दस ऐसे है जिन्हें भोपाल से विभिन्न जिलों में भेजा गया है और पांच ऐसे हैं जिन्हें अलग अलग जिलों से भोपाल बुलाया गया है। दो अफसरों को भोपाल में दूसरी जिम्मेदारियों के साथ ही स्थानांतरित किया गया है। नोटिस करनेवाली बात ये है कि सागर के कलेक्टर दीपक सिंह को शिक्षा विभाग का अपर आयुक्त नियुक्त कर स्थानांतरित कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि अर्बन डेवलपमेंट मंत्री भूपेंद्र सिंह की नाराजगी झेलनी पड़ी है। इसी तरह निवाड़ी और अलीराज के कलेक्टरों को भी शायद चुनाव के अनुकूल नहीं पाया गया है।

उपचुनाव के पहले कलेक्टर को हटाया
स्थानांतरित अफसरों में आलीराजपुर कलेक्टर सुरभि गुप्ता  का भी नाम है। गुप्ता पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के शासनकाल के दौरान 2019 में पदस्थ हुई थी और करीब दो साल का कार्यकाल पूर्ण कर चुकी थी। शिवराजसिंह सरकार ने जोबट उपचुनाव के ठीक पहले उन्हें हस्तशिल्प, हथकरघा विभाग में सह आयुक्त बनाकर भोपाल स्थानांतरित कर दिया है। 
      लंबे समय से यह शिकायतें भोपाल जा रही थी कि भाजपाइयों की सुनवाई नही हो रही है। राजनीतिक क्षेत्र  में पहले ही महिला कलेक्टर का हटना तय माना जा रहा था। अब मंदसौर कलेक्टर की आलीराजपुर में पदस्थापना की गई है।
 

महिला नहीं होनी चाहिए
राजनीतिक सूत्रों के अनुसार आंतरिक तौर पर यह विषय बार-बार आ रहा था कि जोबट विधानसभा उपचुनाव के पहले कलेक्टर बदलना जरूरी है।कलेक्टर सुनती नही है और मोबाइल भी अधिकाशतः कम ही रिसीव करती है।ऐसे में उपचुनाव को लेकर तैयारियां प्रभावित होगी।उपचुनाव  जीतने के लिए विपक्ष के दबाव को भी प्रभावहीन रखने में मुश्किल होगी क्योंकि कलेक्टर का झुकाव गड़बड़ा सकता है।पहले ही जिला पंचायत सीईओ,एसडीएम आदि कई पदों पर महिलाएं है।ऐसे में प्रशासन के मुखिया को बदलकर ही उपचुनाव जीतने का फार्मूला बनाया गया।