हेट स्पीच मामले की सुनवाई को तैयार हुआ सुप्रीम कोर्ट, कपिल सिब्बल की अपील स्वीकार

हरिद्वार में बीते महीने धर्म संसद का आयोजन किया गया था, जिसमें कथित संतों ने मुस्लिमों के नरसंहार के लिए भड़काऊ भाषण दिए थे, उत्तराखंड पुलिस ने आरोपियों पर मुकदमा तो दर्ज किया है, लेकिन किसी तरह की कार्रवाई अब तक नहीं की गई है

Publish: Jan 10, 2022, 01:12 PM IST

हेट स्पीच मामले की सुनवाई को तैयार हुआ सुप्रीम कोर्ट, कपिल सिब्बल की अपील स्वीकार

नई दिल्ली। धर्म संसद में हेट स्पीच के मामले में सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार हो गया है। हेट स्पीच मामले में सुनवाई के लिए कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की थी। जिसे सीजेआई एनवी रमन्ना ने स्वीकार कर लिया है। 

सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा था कि यह मामला काफी खतरनाक है। उत्तराखंड में एफआईआर तो दर्ज की गई है, लेकिन कार्रवाई के नाम पर अब तक आरोपियों के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाया गया है। जिस पर सीजेआई रमन्ना ने कहा कि हम इस पर सुनवाई करेंगे। 

उत्तराखंड के हरिद्वार में बीते महीने त्रिदिवसीय धर्म संसद का आयोजन किया गया था। इसमें मुस्लिमों के नरसंहार के लिए भड़काऊ बयानबाजी की गई थी। भड़काऊ भाषणों का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद काफी बवाल मचा था। बवाल मचने के बाद उत्तराखंड में आरोपियों पर एफआईआर तो दर्ज कर ली गई, लेकिन उनकी गिरफ्तारी अब तक नहीं की गई है। 

यह भी पढ़ें : हरिद्वार हेट सपीच का वीडियो वायरल होने के बाद जागी पुलिस, वसीम रिजवी के खिलाफ FIR दर्ज

वहीं दिसंबर महीने के अंत में छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भी धर्म संसद का आयोजन किया गया। इस दौरान कालीचरण नामक कथित संत राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और मुस्लिमों के खिलाफ अभद्र बयानबाजी की। कालीचरण के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद रायपुर पुलिस उसे मध्य प्रदेश के खजुराहो से गिरफ्तार कर रायपुर ले गई। कालीचरण इस वक्त न्यायिक हिरासत में है।