Sonu Sood: बाढ़ पीड़ित बेटी को रोता देख भावुक हुए सोनू सूद

Flood in Chhattisgarh: बीजापुर की बाढ़ पीड़ित आदिवासी बच्ची को रोते देख सोनू सूद के किया ट्वीट, कहा- बहन आंसू पोंछ लो, किताबें भी नई होंगी, घर भी नया होगा

Updated: Aug-20, 2020, 03:56 AM IST

Sonu Sood: बाढ़ पीड़ित बेटी को रोता देख भावुक हुए सोनू सूद
photo courtesy : The Indian express

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के छोटे से गांव कोमला में रहने वाली आदिवासी छात्रा अंजली कुडियम की मदद के लिए सोनू सूद ने हाथ बढ़ाया है। पिछले दिनों 15-16 अगस्त को अंजली के गांव में बाढ़ का पानी घुस गया था। जिसके बाद अंजली और उसका परिवार को गांववालों के साथ जान बचाकर अपने गांव से 5 किलोमीटर दूर मिनगाछल के धाकड़पारा में शरण लेनी पड़ी थी। बाढ़ कम होने पर लौटी अंजली का घर गिर चुका था। जिसे देखकर वह फूट-फूट कर रो पड़ी थी। अंजली मेधावी छात्रा है वह प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही थी। बारिश में घर और किताबें बरबाद होने से वह दुखी हो गई।  

अंजली का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया। जिसे देखकर सोनू सूद इमोशनल हो उठे और उन्होंने ट्वीट किया-'आंसू पोंछ ले बहन...किताबें भी नई होंगी..घर भी नया होगा!' बता दें कि अंजली नामक इस छात्रा की खबर मीडिया में आने पर कलेक्टर रितेश अग्रवाल और शिक्षा विभाग ने उसे किताबें उपलब्ध करा दी हैं। जिला प्रशासन घर बनवाने में मदद कर रहा है।

 

 

गौरतलब है कि बीजापुर के कई गांवों में बारिश और बाढ़ से लोगों का घर उजड़ गया है। इस वीडियो के वायरल होने के बाद खबर है कि जिला प्रशासन भी हरकत में आया है। अब अंजली और उसके परिवार की मदद की गई है।

सोनू सूद लॉकडाउन के समय से ही लोगों की मदद करने की मुहिम चला रहे हैं। जिसके तहत लाखों लोगों को उनके घर तक पहुंचाने में मदद कर चुके हैं। वहीं इनदिनों में बाढ़ पीड़ितों की मदद में जुटे हैं। हाल ही में अपने जन्मदिन के मौके पर सोनू ने लाखों बेरोजगारों को नौकरी देने का ऐलान किया है।