केंद्र सरकार ने 6 रबी फसलों की MSP बढ़ाई, गेहूं के MSP में 110 तो मसूर में 500 रुपए की बढ़ोतरी

केंद्र सरकार ने रबी की फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य को बढ़ाने का ऐलान किया है। गेहूं की एमएसपी 110 रुपये प्रति क्विंटल बढ़कर अब रबी सीजन 2023-24 के लिए 2125 रुपये प्रति क्विंटल हो गई है।

Updated: Oct 18, 2022, 01:51 PM IST

केंद्र सरकार ने 6 रबी फसलों की MSP बढ़ाई, गेहूं के MSP में 110 तो मसूर में 500 रुपए की बढ़ोतरी

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने दिवाली से पहले किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। केंद्रीय कैबिनेट ने रबी की 6 फसलों की एमएसपी बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कैबिनेट मीटिंग के बाद प्रेस ब्रीफ करते हुए बताया कि सरकार ने मसूर की एमएसपी 500 रुपए प्रति क्विंटल जबकि गेंहू की एमएसपी 110 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ा दी है।

जिन फसलों की MSP बढ़ाई गई है, उनमें गेहूं-मसूर के अलावा जौ, चना, सूरजमुखी और सरसो शामिल है। गेहूं की एमएसपी 110 रुपये प्रति क्विंटल बढ़कर अब रबी सीजन 2023-24 के लिए 2125 रुपये प्रति क्विंटल हो गई है। इसी तरह मसूर की एमएसपी में 500 रुपए की बढ़ोतरी के बाद यह 6 हजार रुपए प्रति क्विंटल हो गई है।

जौ का न्यूनतम समर्थन मूल्य 100 रुपये प्रति क्विंटल बढ़कर 1635 से अब 1735 रुपये प्रति क्विंटल हो गया है। सरकार ने चना की एमएसपी में 105 रुपये की बढ़ोतरी की है। अब चना का रेट 5230 से बढ़कर 5335 हो गया है। सरसो की एमएसपी में 400 रुपए की वृद्धि हुई है। सरसो का सरकारी रेट 5050 से बढ़कर 5450 रुपए हो गया है। वहीं सूरजमुखी के एमएसपी में 209 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोत्तरी की गई है। सूरजमुखी 5441 से बढ़कर 5650 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है।

बता दें कि एमएसपी कमेटी ने रबी की 6 फसलों के लिए 9 फीसदी तक की MSP बढ़ाने की सिफारिश की थी। इसके बाद कृषि मंत्रालय ने भी इन फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने की सिफारिश की। नतीजतन केंद्रीय कैबिनेट ने इस पर मुहर लगा दी। किसानों की आय बढ़ाने के उद्देश्य से सरकार ने यह कदम उठाया है।