अमेरिका के अगले राष्ट्रपति जो बाइडेन का भारत से क्या है ख़ास कनेक्शन

Joe Biden India Connection: जो बाइडेन ने अपनी एक यात्रा के दौरान खुद बताया था कि भारत से उनका सदियों पुराना खास रिश्ता है

Updated: Nov 08, 2020, 01:01 AM IST

अमेरिका के अगले राष्ट्रपति जो बाइडेन का भारत से क्या है ख़ास कनेक्शन
Photo Courtesy: Sunday Guardian

ये बात तो सभी जानते हैं कि अमेरिका की अगली उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस की मां भारत के तमिलनाडु राज्य की रहने वाली थीं। लेकिन क्या आपको पता है कि अगले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन का भी भारत के साथ एक बेहद निजी और सदियों पुराना रिश्ता है? खास बात ये है कि जो बाइडेन ने भारत के साथ अपने इस सदियों पुराने रिश्ते का ज़िक्र खुद ही अपनी एक यात्रा के दौरान किया था। 

क्या है जो बाइडेन का भारत से वो खास रिश्ता

जो बाइडेन वर्ष 2013 में बतौर उपराष्ट्रपति भारत आए थे। तब उन्होंने मुंबई में एक भाषण के दौरान अपने भारतीय कनेक्‍शन को उजागर किया था। 

बाइडेन ने उस वक़्त बताया था कि वर्ष 1972 में जब वह पहली बार सीनेट के सदस्य बने थे, तो उन्हें मुंबई से बाइडेन सरनेम वाले एक शख़्स का पत्र मिला था। मुंबई वाले बाइडेन ने उन्हें बताया था कि दोनों के पूर्वज एक ही हैं। पत्र लिखने वाले ने उन्हें ये भी बताया था कि उनके पूर्वज 18वीं सदी में ईस्ट इंडिया कंपनी में काम करते थे। बाइडेन ने अफसोस भी जताया कि इस बारे में वह विस्तार से पता नहीं लगा सके।

वर्ष 2015 में उन्‍होंने वॉशिंगटन में इंडो-यूएस फोरम की बैठक में फिर इस घटना का जिक्र किया था। उन्‍होंने बताया था कि शायद उनके पूर्वज ने किसी भारतीय महिला से शादी की थी, जिनके परिवार के लोग अभी भी वहां हैं। उन्होंने यह भी बताया था कि मुंबई में तब बाइडेन सरनेम वाले पांच लोग थे, जिनके बारे में एक पत्रकार ने उन्हें जानकारी दी थी। तब बाइडेन ने यह चुटकी भी ली थी कि वह भारत में भी चुनाव लड़ सकते हैं।

पहले भी लड़ चुके है अमेरिकी राष्ट्रपति पद का चुनाव

जो बाइडेन को राष्ट्रपति चुनाव में ये कामयाबी तीसरी बार में मिली है। इससे पहले वे दो बार पहले भी इस रेस में उतर चुके हैं। उन्होंने पहली कोशिश 1988 के चुनाव में की थी। इसके बाद उन्होंने अपनी दूसरी कोशिश 2008 के राष्ट्रपति चुनाव में की थी।

1972 में पहली बाद चुने गए सीनेटर

जो बाइडेन वर्ष 1972 में पहली बार डेवावेयर से सीनेट के लिए निर्वाचित हुए। अब तक वह छह बार सीनेटर रह चुके हैं। बाइडेन ने बराक ओबामा के राष्‍ट्रपति रहते अमेरिका के 47वें उप राष्‍ट्रपति का पद संभाला था। जो बाइडेन अमेरिका के इतिहास में पांचवें सबसे युवा सीनेटर थे। 78 साल के जो बाइडेन अमेरिकी इतिहास में सबसे ज़्यादा उम्र के राष्ट्रपति होंगे।

1972 में एक कार दुर्घटना में पत्‍नी बेटी की मौत

जो बाइडेन का पारिवारिक जीवन काफी कष्‍टप्रद रहा है। वर्ष 1972 में एक कार दुर्घटना में बाइडेन की पहली पत्‍नी और बेटी की दर्दनाक मौत हो गई थी। वह इस कष्‍ट से उबर नहीं पाए थे कि 2015 में बेटे का ब्रेन कैंसर निधन हो गया। इन घटनाओं  ने उनके जीवन को पूरी तरह से झकझोर दिया। इसका प्रभाव उनके जीवन और सोच पर भी पड़ा। यही वजह रही कि राष्‍ट्रपति चुनाव में बाइडेन ने स्‍वास्‍थ्‍य योजनाओं को खास प्राथमिकता दी है। उन्‍होंने इसे चुनावी एजेंडा बनाया। इसे उनके परिवार में एक के बाद एक दुर्घटनाओं से जोड़कर देखा जाता है। बाइडेन ये बात ज़ाहिर भी कर चुके हैं कि स्वास्थ्य सुविधाओं का मसला उनके लिए एक निजी मुद्दा भी है।

पूरा नाम जोसेफ रॉबिनेट बाइडेन जूनियर

अमेरिकी सियासत में जो बाइडेन के नाम से मशहूर बाइडन का पूरा नाम जोसेफ रॉबिनेट बाइडन जूनियर है। बाइडेन का जन्‍म अमेरिका के पेंसिलवेनिया राज्‍य के स्‍कैंटन में हुआ था। लेकिन बचपन में ही वे डेलवेयर चले गए थे।