PMO में शिकायत पर भिड़े बीजेपी सांसद खटीक व विधायक राजेश प्रजापति

Shivraj Singh Chouhan: पीएमओ ने सांसद की शिकायत पर शिवराज सिंह से मांगा जवाब, विधायक को नागवार गुजरा अपनी ही पार्टी के सांसद का कदम

Updated: Sep 04, 2020 12:04 PM IST

PMO में शिकायत पर भिड़े बीजेपी सांसद खटीक व विधायक राजेश प्रजापति

छतरपुर। बीजेपी सांसद वीरेंद्र कुमार खटीक ने छतरपुर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह की शिकायत प्रधानमंत्री से की थी। कलेक्टर के कामकाज से नाखुश खटीक ने सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय को सूचित कर दिया था। जिसपर प्रधानमंत्री कार्यालय ने मुख्यमंत्री को सूचित कर दिया। इसको लेकर अब पार्टी का आंतरिक विरोध उजागर हो गया है। पार्टी के विधायक अपनी ही पार्टी के सांसद के विरोध में उतर आए हैं। 

पार्टी के विधायक राजेश प्रजापति ने सांसद वीरेंद्र कुमार खटीक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। प्रजापति का कहना है कि अगर सांसद को कोई शिकायत थी, उन्हें सैद्धांतिक और शासन के स्तर पर भी पहले मुख्यमंत्री नहीं तो संगठन से शिकायत करनी थी। लेकिन सांसद ने ऐसा न करते हुए सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय तक यह बात पहुंचा दी जो कि अनुचित है। प्रजापति ने कहा कि सामानय शिष्टाचार के तहत भी यह बात प्रधानमंत्री तक पहुंचने से पहले मुख्यमंत्री को पता होनी चहिए थी। 

क्या है मामला? 

दरअसल, कुछ दिन पहले सांसद वीरेंद्र कुमार खटीक ने केंद्र की योजनाओं के क्रियान्वन संबंधी बैठक ली थी। उसमें छतरपुर के जिलाधिकारी का कोई रवैया सांसद खटीक को नागवार गुजरा। नाराज़गी ऐसी बढ़ी कि सांसद महोदय ने सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय को कलेक्टर के रवैए की शिकायत कर दी।

इस पर विधायक राजेश प्रजापति ने कहा है अपना विरोध दर्ज कराया है। प्रजापति ने कलेक्टर का पक्ष लेते हुए कहा है कि खुद सांसद कोरोना काल के दौरान कलेक्टर के कार्यों की तारीफ कर चुके हैं। ऐसे में सांसद को कलेक्टर से किस बात की नाराज़गी है, यह समझ के बाहर है। उधर सांसद खटीक ने सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय में की गई शिकायत को लेकर झेल रहे आलोचनाओं की प्रतिक्रिया में कहा है कि वे केन्द्र के प्रतिनिधि हैं, राज्य के नहीं। ऐसे में मैंने क्या गलत किया है?