अरुण यादव ने उपचुनाव को 2023 के लिए बताया सेमीफाइनल, बोले- हर हाल में खंडवा जीतेंगे

अरुण यादव ने महंगाई को लेकर बीजेपी पर साधा निशाना, बोले- कांग्रेस सरकार में वे कहते थे महंगाई डायन खात जात, अब उन्हें महंगाई अप्सरा नजर आ रही है

Updated: Oct 09, 2021, 04:38 PM IST

अरुण यादव ने उपचुनाव को 2023 के लिए बताया सेमीफाइनल, बोले- हर हाल में खंडवा जीतेंगे
Photo Courtesy: The Week

बुरहानपुर। मध्य प्रदेश में उपचुनाव को लेकर सियासी सरगर्मियां तेज हो गई है। यहां खंडवा लोकसभा सीट पर सभी की निगाहें टिकी हुई है। खंडवा में बीजेपी को कांग्रेस के दिग्गज नेता अरुण यादव से बगावत की उम्मीद थी, लेकिन हुआ बिल्कुल इसके विपरीत। दरअसल, अरुण यादव अब कांग्रेस उम्मीदवार राजनारायण सिंह के लिए फ्रंट से मोर्चा संभाल रहे हैं।

शुक्रवार को खंडवा के बुरहानपुर में उन्होंने चुनावी रैली को संबोधित करते हर बीजेपी पर जबरदस्त हमला किया। खास बात ये है कि यहां टिकट के प्रमुख दावेदार रहे सुरेंद्र सिंह शेरा भी मौजूद थे। अरुण यादव ने कहा अब तो बीजेपी ने भी स्वीकार कर लिया है कि खंडवा से कांग्रेस उम्मीदवार मजबूत हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हर हाल में लोकसभा चुनाव जीतेगी। यादव ने उपचुनाव को 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल बताया।

यह भी पढ़ें: ऑनलाइन पोल में बीजेपी के हाथ से फिसला खंडवा, बीजेपी मंत्री ने कांग्रेस उम्मीदवार को बताया मजबूत

पीएम-सीएम को अप्सरा नजर आ रही महंगाई: यादव

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने इस दौरान महंगाई को लेकर बीजेपी सरकार को निशाने पर लिया। यादव बोले, 'जब कांग्रेस की सरकार थी तब तब पेट्रोल का भाव, खाने के तेल का भाव 65-70 रुपये था। उस वक्त बीजेपी गाती थी महंगाई डायन खात जात है। लेकिन आज जब पेट्रोल 110 रुपये लीटर और खाने के तेल की कीमत 180 रुपये लीटर है। तब पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम शिवराज सिंह चौहान की सरकार को मंहगाई अप्सरा नजर आ रही है।

पार्टी जो भी निर्देश देती है मैं करता हूं: अरुण यादव

इस दौरान खंडवा से चुनावी मैदान में न होने का दर्द भी यादव के चेहरे पर देखा गया। उन्होंने कहा कि हर बार पार्टी जो निर्देश देती है, वो मैं करता हूं। हर बार फसल मैं उगाता हूं और बाद में किसी को दे देता हूं। साल 2018 में भी ऐसा ही हुआ, पार्टी ने कहा- तुम्हारी फसल दे दो, मैंने कहा हां साहब ले लो। फिर उगा लेंगे।' यादव यहीं नहीं रुके उन्होंने यहां तक कहा कि मेरी ही पार्टी के नेताओं ने मेरे बाहर जाने की अफवाह उड़ा दी। लेकिन मैं कहीं नहीं जाने वाला। मैं कांग्रेस पार्टी में ही रहूंगा।'