मत देना वोट, मुझे इस गांव से एक भी वोट नहीं चाहिए, ग्रामीणों ने बताई समस्या तो भड़के विधानसभा अध्यक्ष

धानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम अपने बेटे राहुल गौतम के लिए वोट मांगने रीवा जिला पंचायत के वार्ड क्रमांक 27 हटवा कोरियान गांव में प्रचार करने पहुंचे थे, यहां उन्होंने कहा कि मुझे इस गांव का एक भी मतदाता वोट न दें और मुझे इस गांव से 1 भी वोट नहीं चाहिए

Updated: Jun 21, 2022, 08:49 PM IST

मत देना वोट, मुझे इस गांव से एक भी वोट नहीं चाहिए, ग्रामीणों ने बताई समस्या तो भड़के विधानसभा अध्यक्ष
Photo Courtesy: lalluram

रीवा। मध्य प्रदेश विधानसभा के स्पीकर गिरीश गौतम का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में वे ग्रामीणों के सामने अपने पद से इस्तीफा देने की बात कह रहे हैं। इतना ही नहीं गिरीश गौतम इतने खफा हैं कि वे खुलेआम कह रहे हैं कि मुझे इस गांव से एक भी वोट नहीं चाहिए। बताया जा रहा है कि उनका गुस्सा इसलिए भड़का क्योंकि वोट मांगते वक्त ग्रामीणों ने उन्हें अपनी समस्याएं बतानी शुरू कर दी।

दरअसल, विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम अपने बेटे राहुल गौतम के लिए वोट मांगने रीवा जिला पंचायत के वार्ड क्रमांक 27 हटवा कोरियान गांव में प्रचार करने पहुंचे थे। यहाँ गिरीश गौतम पर दिनेश पांडेय नामक एक युवक ने ग्रामीणों के सामने आरोप लगाया कि विधायक स्वेच्छा निधि से गरीबों को राशि नहीं मिली है। यह राशि अमीरों को मिली या फिर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने इस निधि को हजम कर लिया है।

इस पर विधानसभा अध्यक्ष गुस्से में भड़क उठे। उन्होंने खड़े होकर कहा कि, 'मैं चुनौती देकर जाना चाहता हूँ यदि सारे लोगों का पैसा RTGS से खाते में नहीं गया है तो वे इस्तीफा दे देंगे, मुझे इस गांव का एक भी मतदाता वोट न दें और मुझे इस गांव से 1 भी वोट नहीं चाहिए। चुनाव का माहौल चल रहा है, इसलिए कुछ लोग बरगलाने का काम कर रहे हैं।'

यह भी पढ़ें: अरे तेरा 40 साल में कुछ हुआ क्या, विजयवर्गीय के बाद अग्निपथ पर रामेश्वर शर्मा का विवादित बयान

विधानसभा अध्यक्ष ने दावा किया कि सभी को आरटीजीएस के माध्यम से खाते में दिए हैं। उन्होंने कहा, 'मैं हनुमान जी के सामने चुनौती देता हूँ कि अगर खाते से पैसा नहीं गया है तो इस गांव का एक वोट नहीं चाहिए। अगर आरोप सिद्ध हो गए तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।' गिरीश गौतम का यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।