अग्निवीरों को BJP कार्यालय में गार्ड की नौकरी देंगे, BJP महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की टिप्पणी पर मचा बवाल

बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि यदि बीजेपी दफ्तर में हमें सिक्योरिटी गार्ड रखना होगा तो हम अग्निवीरों को प्राथमिकता देंगे, बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने की तीखी आलोचना

Updated: Jun 19, 2022, 03:18 PM IST

अग्निवीरों को BJP कार्यालय में गार्ड की नौकरी देंगे, BJP महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की टिप्पणी पर मचा बवाल

इंदौर। देशभर में अग्निपथ योजना को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच बीजेपी ने अग्निवीरों के लिए अपनी मंशा स्पष्ट कर दी है। बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि रिटायर होने के बाद अग्निवीरों को बीजेपी कार्यालय में सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर रखा जाएगा। विजयवर्गीय के इस बयान ने हंगामा खड़ा कर दिया हैं। स्वयं बीजेपी के ही सांसद वरुण गांधी ने इसकी तीखी आलोचना की है।

पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने कहा कि, 'जिस महान सेना की वीर गाथाएँ कह सकने में समूचा शब्दकोश असमर्थ हो, जिनके पराक्रम का डंका समस्त विश्व में गुंजायमान हो, उस भारतीय सैनिक को किसी राजनीतिक दफ़्तर की ‘चौकीदारी’ करने का न्यौता, उसे देने वाले को ही मुबारक। भारतीय सेना माँ भारती की सेवा का माध्यम है, महज एक ‘नौकरी’ नहीं।'

कांग्रेस ने भी विजयवर्गीय की इस टिप्पणी पर सख्त आपत्ति जताई है। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने अपने आधिकारी ट्विटर हैंडल से लिखा कि, 'बीजेपी महासचिव कर रहे सैनिकों का अपमान,— बीजेपी कार्यालय के बाहर चौकीदार बनेंगे अग्निवीर। मोदी जी, इसी मानसिकता का डर था। “बेशर्म सरकार” 

दरअसल, कैलाश विजयवर्गीय रविवार को इंदौर स्थित बीजेपी दफ्तर में मीडिया को संबोधित करते हुए अग्निपथ योजना के फायदे बता रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि यदि 21 वर्ष में कोई अग्निपथ ज्वाइन करता है, जब वह 25 साल में बाहर निकलेगा तो उसके हाथ में 11 लाख रुपए होंगे। उसके बाद यदि हमें बीजेपी दफ्तर में सिक्योरिटी गार्ड रखना होगा तो अग्निवीरों को प्राथमिकता देंगे।