राहुलमय हुआ ट्विटर: कांग्रेस नेताओं ने एकजुटता दिखाते हुए बदली डीपी, प्रियंका ने BJP का साथ देने का लगाया आरोप

राहुल गांधी का अकाउंट लॉक करने को लेकर बवाल, कांग्रेस नेताओं ने अपना नाम बदल कर किया राहुल गांधी, प्रियंका गांधी ने भी डीपी में लगाई राहुल की तस्वीर, कांग्रेस बोली, हम आजादी का लड़ाई जीते, यह भी जीतेंगे

Updated: Aug 12, 2021, 09:12 PM IST

राहुलमय हुआ ट्विटर: कांग्रेस नेताओं ने एकजुटता दिखाते हुए बदली डीपी, प्रियंका ने BJP का साथ देने का लगाया आरोप

नई दिल्ली। रेप पीड़िता के लिए न्याय मांगने पर राहुल के खिलाफ कार्रवाई कर माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर चौतरफा घिर गई है। राहुल के समर्थन में देशभर के कांग्रेस नेताओं ने राहुल गांधी की डीपी लगा ली है। इतना ही नहीं कई वेरिफिएड अकाउंट वाले नेताओं ने तो अपने अकाउंट का नाम ही बदलकर राहुल गांधी कर दिया है। कंपनी की कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस नेताओं की एकजुटता ने ट्विटर को राहुलमय कर दिया है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने राहुल के समर्थन में अपना प्रोफाइल पिक्चर बदलते हुए आरोप लगाया है कि ट्विटर इंडिया लोकतंत्र का गला घोंटने में बीजेपी का साथ दे रही है। उन्होंने पूछा कि ट्विटर इंडिया कांग्रेस नेताओं का अकाउंट सस्पेंड करने में अपनी पॉलिसी का पालन कर रही है या फिर मोदी सरकार की नीतियों का? प्रियंका गांधी ने यह भी पूछा है कि कंपनी की ओर से अनुसूचित जाति आयोग के ट्विटर हैंडल के खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई जबकि उस हैंडल से भी वही तस्वीरें ट्वीट की गई थी। 

यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी और एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन ने तो अपने फोटो के साथ-साथ अपने हैंडल का नाम भी बदलकर राहुल गांधी कर दिया है। इसके अलावा सैंकड़ों वेरिफाइड हैंडल्स का नाम राहुल गांधी किया गया है। इनमें अधिकांश अकाउंट्स कांग्रेस कार्यकर्ताओं के हैं। मध्य प्रदेश से कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने भी अपना नाम राहुल गांधी कर लिया है, वहीं जयवर्धन सिंह, जीतु पटवारी समेत कई नेताओं ने एकजुटता दिखाते हुए राहुल की तस्वीर लगाई है।

यह भी पढ़ें: ट्विटर ने राहुल गांधी के बाद कांग्रेस के ऑफिशियल हैंडल समेत कई बड़े नेताओं का अकाउंट लॉक किया

ट्विटर के खिलाफ इस अभियान को लेकर कांग्रेस ने कहा था कि हमने आजादी की लड़ाई भी जीती थी और यह लड़ाई भी हम ही जीतेंगे। कांग्रेस ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर लिखा, 'मोदी जी आप कितने भयभीत हैं? याद रखिए कांग्रेस पार्टी ने इस देश के आजादी की लड़ाई महज सच्चाई, अहिंसा व लोगों की इच्छा शक्ति के दम पर लड़ी है। हमने तब भी जीता था और हम फिर जीतेंगे।' 

कांग्रेस ने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि, 'जब हमारे नेताओं को जेलों में बंद कर दिया गया, हम तब नहीं डरे तो अब ट्विटर अकाउंट बंद करने से क्या ख़ाक डरेंगे। हम कांग्रेस हैं, जनता का संदेश है, हम लड़ेंगे, लड़ते रहेंगे। अगर बलात्कार पीड़िता बच्ची को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठाना अपराध है, तो ये अपराध हम सौ बार करेंगे। जय हिंद...सत्यमेव जयते।' 

दरअसल, पिछले हफ्ते दिल्ली में एक नौ वर्षीय मासूम बच्ची के साथ बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी थी। राहुल गांधी ने बच्ची के मां-बाप से मुलाकात की थी और उन्हें ढांढस बढ़ाकर उनका दुख बांटने का प्रयास किया था। इस दौरान राहुल ने बच्ची के माता-पिता के साथ अपनी तस्वीर ट्वीट करते हुए न्याय की मांग की थी। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने निजता का उल्लंघन करार देते हुए ट्विटर को राहुल के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। जिसके बाद राहुल का अकाउंट लॉक कर दिया गया। 

कांग्रेस के सोशल मीडिया सेल के हेड रोहन गुप्ता के मुताबिक पार्टी के ट्विटर ने कांग्रेस के सक्रिय कार्यकर्ताओं के करीब 5 हजार हैंडल्स को सस्पेंड कर दिया है। इसके पहले कांग्रेस ने बुधवार देर रात बताया था कि कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला, पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह और अजय माकन समेत कई दिग्गज नेताओं का हैंडल लॉक कर दिया गया है। वहीं गुरुवार सुबह कांग्रेस का आधिकारिक हैंडल भी लॉक कर दिया गया। कंपनी ने इस कार्रवाई के खिलाफ पॉलिसी वॉइलेशन का हवाला दिया है।