सरकार जोमैटो नहीं चला रही जो खाना पहुंचाएगी, भूख से तड़पते बाढ़ पीड़ितों को बोले डीएम

अंबेडकर नगर में इस समय घाघरा उफान पर है और उसने विकराल रूप धारण कर लिया है। बाढ़ का पानी अब गांवों में पहुंच गया है और घर डूब चुके हैं।

Updated: Oct 14, 2022, 06:42 PM IST

सरकार जोमैटो नहीं चला रही जो खाना पहुंचाएगी, भूख से तड़पते बाढ़ पीड़ितों को बोले डीएम

अंबेडकर नगर। उत्‍तर प्रदेश में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण करने गए अंबेडकर नगर के जिला अधिकारी (डीएम) का एक बेतुका बयान सामने आया है। वायरल वीडियो में डीएम कह रहे हैं कि हम जोमैटो सर्विस नहीं चला रहे हैं कि घर तक खाना पहुंचाएंगे। मदद लेनी है तो बाढ़ चौकी तक आना ही होगा। इसीलिए बाढ़ चौकी स्थापित की जाती है और सरकार जोमैटो नहीं चला रही है।

अंबेडकर नगर में इस समय घाघरा उफान पर है और उसने विकराल रूप धारण कर लिया है। बाढ़ का पानी अब गांवों में पहुंच गया है और घरों में घुस गया है। जिससे लोगों को बाढ़ चौकियों और राहत शिविरों में शरण लेने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। कई लोग घरों की छत पर रह रहे हैं। पूरी गृहस्थी छोड़कर राहत कैंप में जाना भी आसान नहीं है। बाढ़ का विकराल रूप लगातार बढ़ रहा है, जिससे लोग भयभीत हैं।

आपदा के बीच लोगों को राहत पहुंचाने की जिम्मेदारी अंबेडकरनगर के जिलाधिकारी सैमुअल पॉल को मिली है। लेकिन वे भूखे लोगों से कहते हैं कि सरकार जोमैटो सर्विस नहीं चला रही है। वीडियो से इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि वे कितने जिम्मेदार हैं। उधर दूसरी तरफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं। लेकिन हवाई सर्वेक्षण से जमीन पर बाढ़ से जूझ रहे लोगों की कोई मदद नहीं हो पा रही।