गुजरात में फिर पकड़ी गई 1500 करोड़ की हेरोइन, कांडला पोर्ट पर बरामद हुई 260 किलोग्राम हेरोइन

आतंकवाद निरोधी दस्ते और राजस्व खुफिया निदेशालय ने संयुक्त अभियान चलाकर पकड़ा, ईरान के रास्ते अफगानिस्तान से आई थी ड्रग्स की ये खेप, ड्रग तस्करों के लिए गुजरात के बंदरगाह बने पसंदीदा मार्ग  

Updated: Apr 22, 2022, 10:49 AM IST

गुजरात में फिर पकड़ी गई 1500 करोड़ की हेरोइन, कांडला पोर्ट पर बरामद हुई 260 किलोग्राम हेरोइन
courtesy: the hindu

नई दिल्ली। आतंकवाद निरोधी दस्ते और राजस्व खुफिया निदेशालय ने संयुक्त अभियान चलाकर गुजरात के कच्छ जिले के कांडला बंदरगाह से 1500 करोड़ रूपए की 260 किलोग्राम हेरोइन बरामद की है। गुजरात एटीएस को सूचना मिली थी कि बड़ी मात्रा में ड्रग्स को एक कंटेनर में भरकर भारत ले जाया जा रहा है। इस गुप्त सूचना के आधार पर एटीएस और डीआरआई ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करके इस ड्रग्स को कांडला बंदरगाह से गुरुवार को बरामद किया। 

बरामद कंटेनर ईरान के रास्ते भारत आया था। लेकिन इस कंटेनर को अफगानिस्तान से भेजा गया था। एटीएस और डीआरआई के अधिकारियों का मानना है कि कांडला पोर्ट पर उतरे अन्य कंटेनरों में भी ड्रग्स भरा हो सकता है। इस आशंका के बाद दोनों एजेंसियों के अधिकारियों ने अन्य कंटेनरों की स्कैनिंग भी शुरू कर दी है। 
दरअसल हाल के वर्षों में गुजरात के बंदरगाह घरेलू खपत और अंतरराष्ट्रीय तस्करी के लिए ड्रग्स तस्करों का पसंदीदा मार्ग बन गया है। इससे पहले इसी वर्ष फरवरी महीने में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो और नौसेना ने गुजरात तट से एक जहाज से लगभग 750 किलोग्राम ड्रग्स जब्त किया था।

पिछले साल सितम्बर महीने में अब तक की देश की सबसे बड़ी ड्रग्स की खेप भी गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर पकड़ी गई थी। 21 हजार करोड़ रुपये की ड्रग्स की ये खेप कंटेनरों में भरकर अफगानिस्तान से भारत आई थी। एटीएस, नौसेना, तटरक्षक बल, एनसीबी और डीआरआई जैसी विभिन्न एजेंसियां वर्ष 2017 से लेकर अब तक गुजरात के विभिन्न बंदरगाहों से 30 हजार करोड़ रुपये से अधिक के ड्रग्स बरामद कर चुके हैं।