AAP में शामिल कांग्रेस पार्षदों की घर वापसी, कुछ ही घंटों में वापस कांग्रेस में आए, माफी भी मांगी

शुक्रवार शाम खबर आई कि दिल्ली कांग्रेस उपाध्यक्ष अली मेहंदी के साथ मुस्तफाबाद से पार्षद सबिला बेगम और ब्रिजपुरी से पार्षद नाज़िया खातून ने आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया, देर रात वे वापस कांग्रेस में आ गए।

Updated: Dec 10, 2022, 12:36 PM IST

AAP में शामिल कांग्रेस पार्षदों की घर वापसी, कुछ ही घंटों में वापस कांग्रेस में आए, माफी भी मांगी

नई दिल्ली। राजनीति में कब क्या हो जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता। शुक्रवार शाम को दिल्ली कांग्रेस के उपाध्यक्ष अली मेहंदी ने मुस्तफाबाद विधानसभा के दो नवनिर्वाचित पार्षदों के साथ आम आदमी पार्टी ज्वाइन कर लिया था। लेकिन देर रात उनकी घर वापसी हो गई। तीनों न सिर्फ AAP को छोड़ा बल्की हाथ जोड़कर लोगों से माफी भी मांगी। साथ ही कहा कि हम राहुल गांधी के कार्यकर्ता हैं, कांग्रेस में ही रहेंगे।

अली मेहंदी ने देर रात ट्विटर पर वीडियो जारी करके अपनी गलती के लिए माफी मांगी और कहा कि मैं राहुल गांधी जी का कार्यकर्ता हूं और कांग्रेस में ही था, कांग्रेस में ही रहूंगा। मुझसे बहुत बड़ी गलती हुई. इसके लिए माफी मांगता हूं। अली मेहंदी ने वीडियो ट्वीट कर उन दो नव निर्वाचित महिला पार्षदों के भी कांग्रेस में वापसी की बात कही, जिनको उन्होंने अपने साथ शुक्रवार शाम को आम आदमी पार्टी में शामिल कराया था।

बता दें कि शुक्रवार शाम खबर आई कि दिल्ली कांग्रेस उपाध्यक्ष अली मेहंदी के साथ मुस्तफाबाद से पार्षद सबिला बेगम और ब्रिजपुरी से पार्षद नाज़िया खातून ने आम आदमी पार्टी (AAP) का दामन थाम लिया है।कांग्रेस के इन दो नवनिर्वाचित पार्षदों के आम आदमी पार्टी में शामिल होने के बाद दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) में AAP के पार्षदों की संख्या 136 हो गई। वहीं कांग्रेस के 9 से घटकर 7 पार्षद ही रह गए। हालांकि, देर रात तक दोनों पार्षदों के वापस लौट आने से कांग्रेस की संख्या फिर से 9 हो गई।

दिल्ली नगर निगम (MCD) में पिछले 15 साल से काबिज भाजपा का पत्ता साफ हो गया है। AAP ने यहां बहुमत से जीत दर्ज की है। पार्टी को 250 सीटों वाले MCD में AAP को 134 सीटें मिली हैं, जो बहुमत से 8 ज्यादा हैं। भाजपा के 104 और कांग्रेस के 9 उम्मीदवार जीते हैं। 3 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों की जीत हुई है।