लालू यादव को नहीं मिली ज़मानत, सुनवाई 6 हफ़्ते के लिए टली

दुमका कोषागार के केस में ज़मानत के लिए दी गई है अर्ज़ी, सज़ा की अवधि से जुड़ी सर्टिफ़ाइड कॉपी नहीं मिलने के कारण टली सुनवाई

Updated: Dec 11, 2020, 09:44 PM IST

लालू यादव को नहीं मिली ज़मानत, सुनवाई 6 हफ़्ते के लिए टली
Photo Courtesy: Hindustan

रांची। आरजेडी प्रमुख लालू यादव की ज़मानत की याचिका पर सुनवाई आज फिर टल गई। झारखंड हाई कोर्ट ने शुक्रवार को होने वाली सुनवाई को 6 हफ्तों के लिए टाल दिया। लिहाज़ा लालू यादव को जेल से बाहर आने के लिए अभी और समय लग सकता है।  

आज तक की खबर के मुताबिक लालू यादव के वकील प्रभात कुमार ने बताया कि सज़ा की अवधि से जुड़ी  सर्टिफाइड कॉपी नहीं मिल पाने के कारण सुनवाई टली है। लालू के वकील ने बताया है कि अगले दस पन्द्रह दिनों में सर्टिफाइड कॉपी मिल जाने की उम्मीद है।

इससे पहले गुरुवार को सीबीआई ने झारखंड हाई कोर्ट में एक पूरक शपथ पत्र दाखिल किया था। इसमें कहा गया था कि लालू यादव ने सज़ा के दौरान लगातार नियमों का उल्लंघन किया है। शपथ पत्र में कहा गया है कि लालू यादव की तबीयत भी अभी स्थिर है। लिहाज़ा अब उन्हें रिम्स अस्पताल से वापस बिरसा मुंडा जेल भेज देना चाहिए।

बता दें कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी प्रमुख लालू यादव चारा घोटाले से जुड़े दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में सजायाफ्ता हैं। लालू यादव को तीन अन्य मामलों के लिए भी सज़ा हुई थी। लेकिन उन मामलों में सजा की आधी अवधि पूरी होने के बाद लालू ने खराब तबीयत का हवाला देते हुए हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। जिसके बाद तीन मामलों में उन्हें ज़मानत दी जा चुकी है। उम्मीद की जा रही है कि   दुमका कोषागार मामले में भी सुनवाई होने पर उन्हें ज़मानत मिल जाएगी।