Ram Temple: आडवाणी, जोशी वीडियो पर लाइव देखेंगे भूमि पूजन

Ayodhya: निमंत्रण पर उमा भारती का स्पष्टीकरण, शिलान्यास स्थल पर कौन कौन होगा पता नहीं, सब अपने अपने घर से ही करें भागीदारी

Updated: Aug-02, 2020, 05:38 PM IST

Ram Temple: आडवाणी, जोशी वीडियो पर लाइव देखेंगे भूमि पूजन

नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन की तैयारियां जोर-शोर से चल रही है। आगामी 5 अगस्त को होने वाले इस भूमिपूजन में पीएम मोदी के अलावे कुछ चुनिंदा लोग ही शामिल होंगे। राम मंदिर आंदोलन की अगुवाई करने वाले लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी भूमि पूजन के लिए अयोध्या नहीं जाएंगे। बताया जा रहा है कि दोनों नेताओं को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ही भूमि पूजन का लाइव कार्यक्रम दिखाया जाएगा। 

मीडिया सूत्रों के अनुसार दोनों नेताओं को श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने फोन कॉल के माध्यम से निमंत्रण दिया है। यह आमंत्रण केवल औपचारिकता है। कोरोना काल में उम्र और स्वास्थ्य को देखते हुए राम मंदिर से जुड़े आंदोलनकारी नेताओं आडवाणी और जोशी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ही पूजन कार्यक्रम दिखाने का प्लान है। शासन ने ऐसे 10 लोगों की सूची तैयार की है जो अयोध्या नहीं आ रहे हैं लेकिन उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भूमि पूजन के कार्यक्रम से जोड़ा जाएगा। 

मंच पर रहेंगे सिर्फ पांच लोग

तय कार्यकम के अनुसार पीएम मोदी 5 अगस्त को सुबह करीब 11 बजे अयोध्या पहुंचने के बाद तीन घंटे तक रुकेंगे। सर्व प्रथम वे हनुमान गढ़ी और उसके बाद मानस भवन में पूजा करेंगे। इसके बाद भूमि पूजन के लिए राम जन्मभूमि की ओर जाएंगे। कार्यक्रम स्थल पर एक छोटा सा मंच बनाया जा रहा है जहां से मोदी संतों को संबोधित करेंगे। बताया जा रहा है कि मोदी के साथ मात्र चार लोग मंच साझा करेंगे। इनमें उत्तरप्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, श्री राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास जी महाराज और एक अन्य संत रहेंगे। इनके अलावा कोई नेता या संत मंच पर उपस्थित नहीं रहेंगे।

बता दें कि पीएम मोदी के अलावा मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री उमाभारती, मंदिर आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाली साध्वी ऋतम्भरा, अवधेशानंद सरस्वती, जितेंद्रनंद सरस्वती, रामभद्राचार्य, यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह, इकबाल अंसारी और विनय कटियार को भी पूजन में शामिल होने का निमंत्रण भेजा गया है।

उमा भारती ने कहा: PM मोदी में हम सब की उपस्थिति 

उमा भारती ने समारोह में शामिल होने की पुष्टि भी की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मुझे अभी अयोध्या जी के राम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ पदाधिकारी ने निर्देश दिया है कि मैं 4 अगस्त की शाम तक अयोध्या जी पहुंच जाऊं एवं उनके निर्देश के अनुसार मुझे 6 अगस्त तक अयोध्या जी में ही रहना होगा।

इस पर स्पष्टीकरण देते हुए उन्होंने आज ट्वीट कर सभी से घर में रह कर भूमि पूजन का साक्षी बनने को कहा है। उमा भारती ने कहा है कि विशेषज्ञों के द्वारा दी गई चेतावनी के अनुसार जुलाई एवं अगस्त में कोरोना महामारी अपना विकराल रूप धारण करती जा रही है ऐसी स्थिति में हम भले ही अयोध्या में हों किंतु शिलान्यास स्थल पर कौन लोग मौजूद होंगे यह अंतिम घड़ी तक स्पष्ट नहीं हो सकता।शिलान्यास कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी में ही हम सब की उपस्थिति है। मेरे जितने भी लोग परिचित हैं वह जहां है यदि मेरे इस ट्वीट को पढ़ रहे हैं तो उन सब से मेरी अपील है कि सब अपने अपने घर से ही इस आनंद के पर्व में भागीदारी करें।