महाराष्ट्र: 10 वीं और 12 वीं की बोर्ड परीक्षा स्थगित, बढ़ते कोरोना के मामलों के कारण सरकार ने लिया फैसला

कोरोना के हालातों को देखते हुए कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा को स्थगित कर दी गई है। कक्षा 12वीं की परीक्षा मई के अंत तक आयोजित की जाएंगी। 10वीं की परीक्षा जून में होगी।

Updated: Apr 12, 2021, 06:29 PM IST

महाराष्ट्र: 10 वीं और 12 वीं की बोर्ड परीक्षा स्थगित, बढ़ते कोरोना के मामलों के कारण  सरकार ने लिया फैसला
photo courtesy: naiduniya

मुंबई। महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए सरकार ने बड़ा फ़ैसला लिया है।
 महाराष्ट्र सरकार ने अप्रैल महीने में होने वाली बोर्ड परीक्षा स्थगित कर दिया है। बता दें राज्य में 12वीं बोर्ड परीक्षा 23 अप्रैल और 10वीं बोर्ड परीक्षा 30 अपैल से शुरू होने वाली थी। इसकी जानकारी राज्य की स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने दी।

मंत्री ने ट्वीट कर कहा, "महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर  हमने 10 वीं और 12 वीं की  बोर्ड परीक्षाओं को टालने का  फैसला किया है। मौजूदा हालात परीक्षा आयोजित करने के अनुकूल नही हैं। आपके स्वास्थ्य हमारी प्राथमिकता है।"

 

 

उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा, पेशेवर पाठ्यक्रम के लिए प्रवेश परीक्षा के कार्यक्रम को ध्यान में रखते हुए 12 वीं कक्षा की परीक्षा मई के अंत मे होगी एवं 10 वीं की परीक्षा जून में आयोजित की जाएगी। स्कूल शिक्षा मंत्री गायकवाड़ ने कहा कि स्थगित की गई परीक्षाओं के तारीखों की घोषणा जल्द की जाएगी।

शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि हम सीबीएसई बोर्ड,आईसीएसई,आईबी बोर्ड को पत्र लिखकर उनकी परीक्षाओं की तारीखों पर पुनर्विचार करने अनुरोध करेंगे।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में कोरोना के मामले सबसे ज्यादा है। ऐसे में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राज्य में तालाबंदी को लेकर बड़ा फ़ैसला ले सकते हैं। लगातार सरकारी अधिकारियों, टास्क फ़ोर्स, ड्रेडर्स के साथ बैठक कर रहे हैं। महाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना के 1 लाख 52 हज़ार नए मामले सामने आए हैं।यह एक दिन में सबसे बड़ा आंकड़ा है। बीते 24 घंटे में 839 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है।

वहीं तेज़ी से बढ़ते कोरोना वायरस के कारण दिल्ली सरकार ने राजधानी के सभी स्कूलों में एडवाइजरी जारी कर दी है। 20 अप्रैल तक सीबीएसई बोर्ड प्रैक्टिकल परीक्षा स्थगित करने को कहा है। साथ ही राजधानी चल रहे स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर बंद करने के निर्देश दिए गए हैं।