मंत्री के इस्तीफे और हत्यारे बेटे की गिरफ्तारी होने तक जारी रहेगा संघर्ष, प्रियंका गांधी ने किया एलान

प्रियंका गांधी दो दिन से सीतापुर के PAC गेस्ट हाउस में बंद हैं, उन्होंने फोन पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित किया, कांग्रेस के कार्यकर्ता गेस्ट हाउस के बाहर डटे हुए हैं

Updated: Oct 06, 2021, 11:53 AM IST

मंत्री के इस्तीफे और हत्यारे बेटे की गिरफ्तारी होने तक जारी रहेगा संघर्ष, प्रियंका गांधी ने किया एलान

सीतापुर। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने लखीमपुर खीरी नरसंहार के विरुद्ध जारी अपने संघर्ष को लेकर बड़ा एलान किया है। प्रियंका गांधी ने कहा है कि गृह राज्य मंत्री के इस्तीफे और उनके हत्यारे बेटे की गिरफ्तारी होने तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। जब तक वे मृतक किसानों के परिजनों से मिल नहीं लेतीं तब तक वे पीछे नहीं हटेंगी। 

प्रियंका गांधी ने यह बातें सीतापुर के PAC गेस्ट हाउस के बाहर डटे अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहीं। प्रियंका गांधी ने अपने संबोधन में बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मैं तुम्हारी तानाशाही के सामने झुकने वाली नहीं हूं। जितना तुम मुझे रोकने और दबाने की कोशिश करोगे उतनी ही शक्ति के साथ मैं न्याय के लिए आवाज़ उठाऊंगी। 

प्रियंका गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री के लखनऊ दौरे पर भी निशाना साधा। प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री लखनऊ तो आए लेकिन वे किसानों के परिजनों के आंसू पोंछने के लिए लखीमपुर तक नहीं जा सके। कांग्रेस महासचिव ने प्रधानमंत्री को राजधर्म का पाठ पढ़ाते हुए कहा कि एक राजा का यही कर्तव्य होता है कि वो अपनी प्रजा की रक्षा करे। 

कांग्रेस नेता ने कहा कि किसान इस देश की रीढ़ की हड्डी हैं। और सिर्फ कांग्रेस इस बात को समझती है। जब तक किसानों को इंसाफ नहीं मिल जाता तब तक हम यहां से हिलने वाले नहीं हैं। 

प्रियंका गांधी पिछले दो दिनों से सीतापुर गेस्ट में हाउस में बंद हैं। उन्हें सोमवार सुबह को लखीमपुर खीरी जाते वक्त हिरासत में लिया गया था। एक दिन तक उन्हें बिना किसी ऑर्डर और एफआईआर के हिरासत में रखा गया। इस पर जैसे ही बवाल मचना शुरू हुआ, वैसे ही प्रियंका गांधी के ऊपर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीतापुर पीएसी गेस्ट हाउस के आसपास के इलाके में इंटरनेट सेवाओं पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज दोपहर लखनऊ के लिए रवाना होने वाले हैं। राहुल गांधी के साथ पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी मौजूद रहेंगे।