Rahul Gandhi: EVM है या मोदी वोटिंग मशीन, मतदान में धांधली की खबरों पर राहुल ने पूछा सवाल

Bihar Elections: बिहार के अररिया में की रैली में राहुल गांधी ने EVM में धांधली की खबरों पर किया तंज़, बोले अब MVM से भी नहीं रुकेगी महागठबंधन की जीत

Updated: Nov 04, 2020, 05:08 PM IST

Rahul Gandhi: EVM है या मोदी वोटिंग मशीन, मतदान में धांधली की खबरों पर राहुल ने पूछा सवाल
Photo Courtesy: India TV

पटना। राहुल गांधी ने अररिया में आज अपनी एक रैली के दौरान प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए ईवीएम में कथित तौर पर हो रही गड़बड़ी पर सवाल उठाए हैं। राहुल गांधी ने ईवीएम के बहाने  प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा है कि उसका नाम ईवीएम नहीं है, एमवीएम है। मतलब, मोदी वोटिंग मशीन। उसमें ई ऐसे ही लिखा हुआ है। वोट कहीं भी डालो लेकिन जाता मोदी को ही है। 

राहुल गांधी ने आगे कहा लेकिन इस बार चाहे एमवीएम हो या ईवीएम हो कोई फर्क नहीं पड़ता। राहुल गांधी ने कहा इस बार बिहार के युवाओं में गुस्सा है। युवाओं के दिल में गुस्सा है। इसलिए चाहे वो ईवीएम हो या एमवीएम हो। गठबंधन जीतने जा रहा है। ईवीएम में गड़बड़ी और धांधली का मुद्दा अब बिहार चुनाव में भी प्रवेश कर गया है। बुधवार को बिहार में दूसरे चरण के मतदान हो रहे थे। छपरा में वोट देने पहुंचे मतदाताओं ने ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत की। जिसके बाद राहुल गांधी ने ईवीएम को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

और पढ़ें: दिग्विजय सिंह ने उठाए EVM पर सवाल पूछा, विकसित देश क्यों नहीं इस्तेमाल करते ईवीएम

दरअसल कल से ही सोशल मीडिया पर यह खबर आग की तरह फ़ैल रही है  कि छपरा के गरखा विधानसभा क्षेत्र में वोट देने पहुंचे मतदाताओं ने अपने बूथ पर ईवीएम में कथित तौर पर हो रही धांधली को लेकर हंगामा मचा दिया। मतदाताओं का कहना था कि एक तो हमारे बूथ पर वोटिंग देरी से शुरू की गई। और अब वोट लालटेन यानी आरजेडी के चुनाव चिन्ह पर देते हैं, लेकिन जाता कमल यानी बीजेपी के चुनाव चिन्ह पर है। मतदाताओं का यह भी आरोप था कि आरजेडी को पर एक वोट देते हैं तो पांच वोट बीजेपी को जा रहा है। हालांकि बाद में हंगामा कर रहे मतदाताओं को अधिकारियों द्वारा मनाए जाने के बाद वोटिंग की प्रक्रिया बहाल की गई।  

चुनाव आयोग इसका स्पष्टीकरण दे : दिग्विजय सिंह 
कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने घटनाक्रम का वीडियो साझा किया है और चुनाव आयोग से पूरे मामले पर स्पष्टीकरण देने की मांग की है। घटनाक्रम का वीडियो ट्विटर पर साझा करते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा है,'बटन दबाया RJD का, वोट गया BJP को, छपरा में EVM को लेकर भारी बवाल। क्या यह सही खबर है? माननीय केंद्रीय चुनाव आयोग को इसका स्पष्टीकरण देना चाहिए।' 

और पढ़ें : EVM Hacking: क्या वाकई हो रही है EVM की हैकिंग, हरियाणा के वायरल वीडियो से फिर उठा सवाल

इससे पहले कल ही हरियाणा का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें अपने हाथ में मशीन लिए खड़ा एक युवक यह बोलते हुए नज़र आ रहा था कि वो बीजेपी के लिए वोट डालने आया था और बीजेपी वालों ने उसे ये मशीन लेकर भेजा है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल खड़ा करते हुए पूछा था कि 'तकनीकी युग में विकसित देश EVM पर भरोसा नहीं करते पर भारत व कुछ छोटे देशों में EVM से चुनाव होते हैं। विकसित देश क्यों नहीं कराते? क्योंकि उन्हें EVM पर भरोसा नहीं है। क्यों? क्योंकि जिसमें चिप है वह हैक हो सकती है।’ कांग्रेस नेता पिछले कई वर्षों से ईवीएम मशीनों को लेकर अपना मत बता चुके हैं और ईवीएम के खिलाफ मुखरता से अपनी आवाज उठाई है। उन्होंने अपनी रैलियों में भी कई दफा ई मशीनों पर अविश्वास व्यक्त किया है।